आजमगढ़ : CMO कार्यालय के बाबू पर एंटी करप्शन की टीम का शिकंजा

0 2

आजमगढ़ : उत्तर प्रदेश में सरकारी महकमों में भ्रष्टाचार को ख़त्म करने के लिए तमाम दावे किए जाते हैं। इसी बीच आजमगढ़ जिले में आज एंटी करप्शन ब्यूरो की गोरखपुर इकाई की टीम ने सीएमओ ऑफिस में तैनात एक बाबू को पांच हज़ार रूपए घूस लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा। जिसके बाद सहायक शोध अधिकारी को लेकर एंटी करप्शन की टीम शहर की कोतवाली ले आई है। यहां एफआईआर दर्ज करवाने के बाद आगे की कार्रवाई की जा रही है।

आजमगढ़ : CMO कार्यालय के बाबू पर एंटी करप्शन की टीम का शिकंजा

बताया जा रहा है कि आजमगढ़ के तरवा क्षेत्र के निवासी मनोज कुमार श्रीवास्तव अपने क्षेत्र में ही नर्सिंग होम चलाते है और रिन्यूअल के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के चक्कर में स्वास्थ्य विभाग में दौड़ भाग कर रहे थे। ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन हो गया था लेकिन पंजीकृत प्रमाणपत्र देने के नाम पर संबंधित पटल के बाबू की तरफ से लगातार उनसे परमिशन के लिए कैश की डिमांड की जा रही थी। गौरतलब है कि सीएमओ कार्यालय में लाइसेंस रिन्यूअल और अन्य पंजीकरण के नाम पर वसूली की शिकायतें अक्सर आती रहती हैं। इसी क्रम में तरवा के किशोरी देवी मेमोरियल हॉस्पिटल के लाइसेंस रिन्यूअल के नाम पर डॉ मनोज कुमार श्रीवास्तव से घूस की मांग की जा रही थी।

पीड़ित मनोज श्रीवास्तव ने सामाजिक संगठन प्रयास से संपर्क किया। जिसके बाद गोरखपुर विजिलेंस ऑफिस पर अपनी पीड़ा को रखा। इसके बाद टीम ने जाल बिछाकर औपचारिक कार्रवाई के लिए पी डब्लूडी के दो गवाहों को लेकर कर आज दिन में बाबू सीएमओ कार्यालय से दिन में शिकंजे में लिया।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.