बजरंग दल ने फूंका आतंकवाद का पुतला

कश्मीर घाटी में हिंदुओं की निर्मम हत्या का विरोध

0 4

आजमगढ़। जम्मू कश्मीर में हुई हिंदुओं की नृशंस हत्या के विरोध में शनिवार को विश्व हिन्दू परिषद की युवा शाखा बजरंग दल के पदाधिकारियों ने मुख्यालय पर प्रदर्शन कर आतंकवाद का पुतला फूंका। राष्ट्रपति को पत्रक भेजकर पाकिस्तान समर्थित इस्लामिक आतंकवाद पर कार्यवाही किए जाने की मांग की।

बजरंग दल के जिला संयोजक शशांक तिवारी ने कहा कि कश्मीर घाटी में पांच दिनों में सात हिंदुओं की पाकिस्तान समर्थित आतंकवादियों ने हत्या कर दी। आतंकवादियों के इस कृत्य से देश का हिन्दू समाज आहत है। घाटी में हिंदुओं के पुर्नवास रोकने और भयभीत कर पलायन के लिए मजबूर करने के लिए आतंकवादियों ने यह घृणित कार्य किया है। उन्होंने कहा कि भारत की पावन धरती को रक्तरंजित व विभाजित करने की मानसिकता रखने वालों को चिन्हित कर सेना को इनके विरूद्ध कड़ी कार्यवाही करने के लिए पूरी छूट देनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि आतंकवाद पूरे विश्व की समस्या है। आतंकवाद का राजनैतिक हथियार के लिए प्रयोग करने वाले आतंकी पाकिस्तान पर नकेल कसने के लिए पूरे विश्व को आगे आने की जरूरत है। बलिदानी हिन्दू-सिखों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए बजरंग दल उनके परिवार के साथ खड़ा है।

जिला सह संयोजक उत्कर्ष सिंह ने कहा कि धर्म निरपेक्षता की बात करने वालों का कहीं पता नहीं चल रहा और घाटी में हो रही हिंदुओं की हत्या पर मौन साधे हुए है। पाकिस्तान समर्थित इस्लामिक आतंकवाद को पूरी तरह से खत्म करना होगा। जिससे कश्मीर घाटी में हिंदुओं का पुर्नवास हो सके।

इस अवसर पर विहिप के विभाग अध्यक्ष अशोक अग्रवाल, प्रभुनाथ सिंह पप्पू, आशीष गोयल, दीनानाथ सिंह, पंकज मिश्रा, संतोष गुप्ता, विमल मौर्या, अमित दूबे, चंदन, गौरव रघुवंशी, अरविंद अग्रवाल, नीरज अग्रवाल, अरविंद मोदनवाल, सूरज निषाद, राघवेंद्र मिश्रा, मनोज सिंह, रविन्द्र पांडेय, संजीव डालमिया, नीरज सिंह, बलवंत सिंह, सुरेंद्र चौहान, चंद्रकेश गोंड़, मकरध्वज यादव, शंकर यादव, आशीष जायसवाल, मुनीब गुप्ता, मृत्युंजय बरनवाल, मोहित बरनवाल, विशाल मद्धेशिया, अभिषेक गुप्ता, गौरव गुप्ता, गिरीश पांडेय बबलू, विनय पाठक, सुमित पांडेय, अनूप पांडेय, सूर्या मोदनवाल, मिथिलेश चौहान, गोपाल राय, राहुल सिंह, लालमन चौहान, मृत्युंजय शुक्ला, अनिरुद्ध सिंह, प्रशांत कुमार इत्यादि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.