किसान नेता नहीं हैं राकेश टिकैत, बस लठैत हैं : BJP विधायक सुरेंद्र सिंह

0 5

बलिया। अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह किसान नेताओं पर बरसे। उन्होंने दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर निशाना साधते हुए कहा कि राकेश टिकैत किसान नेता नहीं, बस लठैत हैं। इसके साथ ही ममता बनर्जी पर उन्होंने कहा कि अब बंगाल की सीएम का नाम निर्दयता बनर्जी होना चाहिए।

बैरिया से बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने दिल्ली में हुए ट्रैक्टर मार्च को लेकर किसानों पर निशाना साधा है। विधायक ने कहा कि राकेश टिकैत किसान नेता नहीं, बस लठैत हैं। दरअसल, 26 जनवरी के बाद किसान आंदोलन ठंडा पड़ता दिख रहा था और पुलिस भी गाजीपुर बॉर्डर पर डटे किसानों को हटाने की तैयारी में थी। लेकिन राकेश टिकैत की भावुक अपील के बाद रातोंरात एक बार फिर माहौल बदल गया और किसान गाजीपुर बॉर्डर पर जाकर डट गए है।

राकेश टिकैत किसान नेता नहीं, बस लठैत हैं : सुरेंद्र सिंह

सुरेंद्र सिंह ने भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) के नेता राकेश टिकैत पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि राकेश टिकैत किसान नेता नहीं, बस लठैत हैं। दरअसल, उनका ये बयान राकेश टिकैत के वायरल हुए वीडियो के बाद आया है। जिसमें वो लाठी-डंडा साथ रखने की बात कर रहे हैं। सुरेंद्र सिंह यही नहीं रुके, उन्होंने बंगाल की सीएम ममता बनर्जी पर भी निशाना साधा।

बीजेपी विधायक ने कहा कि वहां दर्जनों हत्या हो चुकी है, लेकिन ममता बनर्जी की पुलिस उस पर कोई कार्रवाई नहीं करेंगी। ये किसी राजा या नेता का शासन होता है। शासन जो खुद ही दुशासन बन चुका हो वो सुशासन की बात कर रहा है। मीडिया द्वारा सुरेंद्र सिंह से पूछा गया कि दिल्ली की घटना को ममता बनर्जी भाजपा को मान रही है जिम्मेदार। इस सावल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि इतने अत्याचार करने के बाद भी लोगों ने धैर्य का परिचय दिया और उनपर किसी तरह की पुलिस कार्यवाही नहीं की। कहा कि कानून तो काम करेगा ही करेगा, लेकिन पुलिस ने ना तो लाठीचार्ज किया। ना ही आंसू गैस छोड़ी और ना ही गोली मारी। लेकिन भारतीय संविधान के तहत कार्रवाई हो रही है।

विधायक ने कहा कि ममता बनर्जी नहीं वो निर्दयता बनर्जी है। कहा कि कुर्सी के लिए उन्होंने पश्चिमी बंगाल को जम्मू कश्मीर बना दिया है। लेकिन वहां का हिंदू समाज जाग चुका है इस बार वहां परिवर्तन हो जाएगा। कहा कि वहां का विभीषण भी मिल चुका है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.