लोकतंत्र की गरिमा की रक्षा करती है सशक्त और समर्थ विधायिका : CM योगी

0 5

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधान परिषद के 11 सदस्यों का कार्यकाल को समाप्त हो गया। इस दौरान विधान भवन में शुक्रवार को विदाई समारोह आयोजित किया गया, जिसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल हुए। इस अवसर पर समारोह को उन्होंने संबोधित भी किया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि लोकतंत्र का आधार हमारी विधायिका है, एक सशक्त और समर्थ विधायिका लोकतंत्र की जड़ों को शक्तिशाली बनाती है।

सीएम योगी ने कहा कि विधायिका के शक्तिशाली होने और उसे समर्थ बनाने में सबसे बड़ी भूमिका वहां पर आने वाले सदस्यों की है। माननीय सदस्यों के संवाद से इसको काफी ताकत मिलती है। वह अपने संवाद को माध्यम बनाकर अपनी बातों को सहजता के साथ सरलता के साथ अपनी बातों को सदन में रखते हैं, यह काफी मायने रखता है। अगर हमें लोकतंत्र की गरिमा की रक्षा करनी है तो हमें विधायिका की गरिमा की रक्षा करनी पड़ेगी।

उन्होंने कहा कि इस उच्च सदन ने सदैव विधायिका के लिए एक सुनिश्चित मापदंड तय कर रखे हैं। यही कारण था कि उत्तर प्रदेश विधान परिषद को पंडित मदन मोहन मालवीय, उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री पंडित गोविंद वल्लभ पंत, सर तेज बहादुर सप्रू तथा प्रख्यात कवियत्री महादेवी वर्मा जैसी विभूतियों ने सुशोभित किया। इस सदन के माध्यम से ही उन्होंने देश के सामने उत्तर प्रदेश की विधायिका, विधान मंडल तथा विधान परिषद की गरिमा को एक नई ऊंचाई दी थी।

ये फिर चुने गए विधान परिषद सदस्य

कार्यकाल समाप्त होने के बाद भाजपा से उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और लक्ष्मण प्रसाद आचार्य, दोबारा एमएलसी चुने गए हैं। इसके अलावा सपा के नेता प्रतिपक्ष अहमद हसन बने हैं।

इनका कार्यकाल हुआ समाप्त

सभापति व सपा नेता रमेश यादव, आशु मलिक, रामजतन राजभर, साहब सिंह सैनी और वीरेंद्र सिंह के अलावा बसपा के प्रदीप कुमार जाटव और धर्मवीर सिंह अशोक का कार्यकाल 30 जनवरी को खत्म हो रहा है। नसीमुद्दीन की सदस्यता दल बदल कानून के तहत रद्द हो गई है।

सीएम योगी ने ओपी शर्मा को किया याद

सीएम योगी ने कहा कि हमारे सदन के वरिष्ठतम सदस्य ओमप्रकाश शर्मा अब हमारे बीच नही हैं। विधायिका का उपयोग शिक्षा जगत के लिए कैसे किया जाए? इसे उन्होंने बखूबी किया है। आधी सदी यानी 48 वर्षों तक वो सदन के गौरव रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.