पुलिस और रेप के आरोपी में मुठभेड़, पुलिस ने पैर में गोली मारकर किया गिरफ्तार

0 3

उन्नाव। उत्तर प्रदेश के उन्नाव में बकरी चराने गई एक बच्ची लापता हो गई थी। जिसकी गुमशुदगी की शिकायत उसके परिजनों ने थाने में दर्ज करवाई थी। जिसके बाद पुलिस हरकत में आई और छानबीन में जुट गई। पुलिस ने सभी तरफ से सुराग जुटाने शुरू किए। जांच में पता चला कि लड़की की रेप के बाद हत्या कर शव कुएं में फेंक दिया गया है। आरोपी युवक गांव का ही है, जो अपनी रिश्तेदारी में आया हुआ था। जब पुलिस व स्वाट टीम ने उसे गिरफ्तार करने की कोशिश की तो मुठभेड़ हो गई। उसने टीम पर ही फायरिंग कर दी।

मामला पुरवा कोतवाली क्षेत्र के एक गांव का है। जहां बीते रविवार की दोपहर करीब 3 बजे 10 वर्षीय बच्ची काली मंदिर के पास बकरी चराने गई थी। रात हो जाने तक भी जब वह घर वापस नहीं आई तो घरवालों ने उसकी खोजबीन शुरू कर दी। उसका कोई सुराग ना मिलने पर उसकी मां ने रात 11 बजे थाने में तहरीर दी। जिसमें उसने पूर्व पति, ससुर व एक अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया था।

शिकायत मिलते ही पुलिस हरकत में आ गई। टीम बनाकर पुलिस ने तलाश शुरू कर दी। सबसे पहले उन्हें लापता किशोरी के घर से 100 मीटर की दूरी पर बने बारात घर की छत से उसकी चप्पल और ताला बंद कमरे में उसका छाता मिला। इसके बाद गुरुवार की देर रात पुलिस को घर से करीब पांच सौ मीटर दूर स्थित एक कुंए में बच्ची का नग्न शव मिला। पुलिस को आशंका है कि उसके रेप के बाद उसकी हत्या कर शव फेंक दिया गया है।

सुरागों के आधार पर पुलिस ने पता लगाया कि इस मामले में बच्ची के गांव का रहने वाला नीरज आरोपी है। दरअसल, यह अचलगंज थानाक्षेत्र का निवासी है यहां अपने नाना के घर आया हुआ है। पुलिस व स्वाट टीम ने जब उसे पकड़ने की कोशिश की तो नीरज ने गोलियां दागनी शुरू कर दीं। जवाबी फायरिंग में गोली युवक के पैर में लगी और वह घायल हो गया। जिसे पुलिस ने इलाज के लिए जिला अस्पताल भिजवाया है। उसी की निशानदेही पर बच्ची के कपड़े भी बरामद हुए हैं। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। स्वाट प्रभारी गौरव कुमार ने बताया कि बच्ची का शव बरामद कर आरोपित को पकड़ लिया गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.