कोरोना म्यूटेशन के संबंध में गहन अध्ययन की जरूरत : सीएम

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना म्यूटेशन के संबंध में गहन अध्ययन की आवश्यकता है।

0 7

लखनऊ। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को अपने सरकारी आवास 5-कालिदास मार्ग, लखनऊ में कोविड-19 के संबंध में गठित समितियों के अध्यक्षों के साथ बैठक की। मुख्यमंत्री ने बैठक में कोरोना वायरस पर प्रभावी नियंत्रण के साथ-साथ विभिन्न विषयों पर अधिकारियों को उचित दिशा-निर्देश दिए। सीएम ने कहा कि प्रदेश सरकार 15 जून से सभी 75 जिलों में यह अभियान शुरू होगा। इसमें दूध व सब्जी विक्रेता, ऑटो-टेंपो-रिक्शा चालक, ठेला, खोमचा आदि से जुड़े लोगों को अलग से कोविड-19 का टीका लगाएगी। कोरोना संक्रमण के कम होते मामलों को देखते हुए प्रदेश में अनलॉक की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

कोरोना वायरस की समीक्षा बैठक में सीएम योगी आदित्यनाथ ने थर्ड स्ट्रेन के लिए अभी से तैयार रहने का निर्देश देने के साथ कोरोना म्यूटेशन के संबंध में अध्ययन करने की जरूरत पर बल दिया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना म्यूटेशन के संबंध में गहन अध्ययन की आवश्यकता है। अनेक संस्थान विभिन्न मानकों पर अध्ययन कर भी रहे हैं। ऐसे में सेंट्रल ड्रग रिसर्च इंस्टीट्यूट (सीडीआरआइ) के सहयोग से प्रदेश में कोरोना की जीनोम सिक्वेंसिंग कराई जाए। इस वैज्ञानिक अध्ययन के निष्कर्ष भविष्य में इस महामारी से बचाव में निश्चित ही उपयोगी सिद्ध होंगे।

उत्तर प्रदेश में सर्वाधिक टेस्ट
उन्होंने कहा कि ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट की नीति के अनुरूप उत्तर प्रदेश की नीति के संतोषप्रद परिणाम मिल रहे हैं। 24 घंटों में तीन लाख, 12,677 टेस्ट हुए, इसमें 1.42 लाख सैम्पल आरटी पीसीआर माध्यम से जांचे गए। उत्तर प्रदेश सर्वाधिक कोविड टेस्ट करने वाला राज्य है। अब तक यहां चार करोड़ 94 लाख 09 हजार 446 सैम्पल की टेस्टिंग हुई है।

सीरो सर्वे कराना जरूरी
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना से कुल संक्रमित के साथ स्वस्थ हुए लोगों की एंटीबॉडी आदि के सम्बंध में सीरो सर्वे कराया जाना आवश्यक है। इस संबंध में चार जून से प्रदेश में सैंपलिंग का प्रारंभ होगी। इससे लिंग और आयु सहित अलग-अलग पैमाने पर संक्रमण की अद्यतन स्थिति का आकलन हो सकेगा। यह कार्यवाही तेजी की जाए। जून के अंत तक इस सर्वे के परिणाम प्राप्त होने की संभावना है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.