एनआरएचएम से बड़ा है जल जीवन मिशन घोटाला : संजय सिंह

0 2

लखनऊ। आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद और यूपी प्रभारी संजय सिंह ने लखनऊ स्थित पार्टी कार्यालय में एक प्रेस वार्ता की। उन्होंने कहा कि
25 अगस्त को पूरे उत्तर प्रदेश में सभी जिलों के अंदर मटका फोड़ो आंदोलन आम आदमी पार्टी की ओर से किया जाएगा। यह मटका फोड़ो आंदोलन उत्तर प्रदेश की सरकार के द्वारा जल जीवन मिशन में किए गए हजारों करोड़ के भ्रष्टाचार के खिलाफ होगा। संजय सिंह ने कहा कि मंगलवार को जब मैंने जल जीवन मिशन में घोटाले का खुलासा किया था तो मैंने आपसे कहा था कि इस महा घोटाले से संबंधित तमाम जानकारियां मेरे पास है जो समय-समय पर आपके सामने प्रस्तुत करूंगा। उत्तर प्रदेश में आदित्यनाथ के सबसे करीबी मंत्री डॉक्टर महेंद्र सिंह की निगरानी में उनकी मिलीभगत से यह जो महा घोटाला हुआ है यह क्या है इसकी पूरी डिटेल मैं आपको बता रहा हूं। इसके साथ-साथ आपको यह भी समझ में आ जाएगा कि मेरे ऊपर मुकदमा लिखवाने की, नोटिस भेजने की, इतना बौखलाने की जरूरत क्यों पड़ी क्योंकि रंगे हाथों यह लोग इस भ्रष्टाचार में पकड़े जा रहे हैं। ये घोटाला एनआरएचएम से भी बड़ा महा घोटाला है। मैंने माइनिंग में इंजीनियरिंग किया था तो मुझे मालूम नहीं था कि मुझे डॉक्टर महेंद्र सिंह के भ्रष्टाचार को खोदकर निकालने में मेरी इंजीनियरिंग काम आएगी। पूरी रात हम लोगों ने जागकर एक-एक कागज पढ़कर जानकारी हासिल कर उनके भ्रष्टाचार को खोदकर निकाला है।

संजय सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश के 2 विभाग जल निगम और जल जीवन मिशन में जल निगम में परिसर में मिट्टी भराई 150 रुपए प्रति घन मीटर होती है वही महेंद्र सिंह के जल जीवन मिशन विभाग में 521 रुपए प्रति घन मीटर होती है। स्लूइस वाल्व 200 मिलीमीटर व्यास का 8800 रुपए में जल निगम के द्वारा खरीदा जा रहा है वहीं जल जीवन मिशन में 27,271 रुपए में खरीदा जा रहा है। 150 मिलीमीटर व्यास का वाल्व 6600 रुपए में जल निगम के द्वारा खरीदा जा रहा है जबकि जल जीवन मिशन में उसी व्यास का 17,604 रुपए में खरीदा जा रहा है। 80 मिलीमीटर व्यास का वाल्व 4000 रुपए में जल निगम विभाग के द्वारा खरीदा जा रहा है जबकि उसी व्यास का जल जीवन मिशन में 12386 रुपए में खरीदा जा रहा है।’

संजय सिंह ने कहा कि मैं मंत्री महेंद्र सिंह से पूछना हूं कि सरकार के 2 विभागों में एक ही काम के रेट में जमीन-आसमान का फर्क क्यों? ये महाघोटाला नहीं तो और क्या है। सड़क पुनर्निर्माण इंटरलॉकिंग 693 रुपये प्रति वर्ग मीटर जल निगम के द्वारा किया जा रहा है, जबकि जल जीवन मिशन में 1069 रुपये प्रति वर्ग मीटर किया जा रहा है। हाउस कनेक्शन 2790 रुपए जल निगम के द्वारा किया जा रहा है जबकि जल जीवन मिशन में 3495 रुपए में किया जा रहा है। ओवरहेड टैंक 225 किलो लीटर का जल निगम 32 लाख 36 हजार रुपए में बनाता है जिसकी ऊंचाई 18 मीटर है, और जल जीवन मिशन में वही ओवरहेड टैंक 41 लाख 64 हजार रुपये में बनाया जाता है जिसकी ऊंचाई 12 मीटर है।

ये पानी चोरी का काम आदित्यनाथ सरकार और उनके सबसे करीबी मंत्री महेंद्र सिंह कर रहे हैं कि नहीं कर रहे हैं इन सवालों का जवाब उनको देना चाहिए। ये है 18 कामों की सूची, अब आप बताइए ये महा घोटाला है कि नहीं। ये महा भ्रष्टाचार है कि नहीं। ये उत्तर प्रदेश की जनता के पैसे में लूट है कि नहीं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.