Petrol-Diesel की कीमत में ज़बरदस्त उछाल, जानिए क्या है आपके शहर का हाल

0 3

नई दिल्ली : पेट्रोल डीजल की लगातार बढ़ती कीमतों ने आम आदमी की टेंशन बड़ा दी है. बीते एक हफ्ते के बाद आज यानी गुरूवार को सरकारी तेल कंपनियों ने दोनों ईंधन के दाम में बढ़ोतरी कर दी. गुरुवार को तेल कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल के दाम में 35 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी कर दी है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एक फरवरी को साल 2021-22 का आम बजट पेश किया. उन्होंने पेट्रोल पर प्रति लीटर 2.5 रुपये और डीजल पर चार रुपये प्रति लीटर सेस (उपकर) लगाने की घोषणा की थी. इसके बावजूद सरकार का कहना है कि इसका आम उपभोक्ता पर असर नहीं होगा. राजधानी दिल्ली में आज यानि गुरूवार को पेट्रोल 86.65 रुपये प्रति लीटर एवं डीजल का भाव 76.83 रुपये लीटर तक पहुच गया है. लगातार हो रही बढ़ोत्तरी से पेट्रोल-डीजल के कीमत रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई हैं

एलपीजी सिलिंडर के दाम 25 रुपये  बढ़े

इसी तरह एलपीजी सिलिंडर के दाम 25 रुपये बढ़ गए हैं. इंडियन ऑयल के मुताबिक उपभोक्ताओं को 14 किलोग्राम वाले नॉन सब्सिडी घरेलू गैस सिलिंडर के लिए ज्यादा पैसे चुकाने होंगे. एलपीजी सिलिंडर के दाम 25 रुपये बढ़ गए हैं. इसके लिए दिल्ली में 719 रुपये प्रति सिलिंडर, कोलकाता में 745.50 रुपये प्रति सिलिंडर, मुंबई में 710 और चेन्नई में 735 रुपये प्रति सिलिंडर देना होगा.

पेट्रोल और डीजल की कीमतों ने रिकॉर्ड ऊंचाई हासिल की

गौरतलब है कि नए साल में पेट्रोल और डीजल की कीमतों ने रिकॉर्ड ऊंचाई हासिल की है. इससे महंगाई बढ़ने के आसार दिख रहे हैं. खासकर डीजल के दाम बढ़ने का असर कई सेक्टर पर होता है. इससे किसानों की सिंचाई लागत बढ़ जाती है और माल भाड़ा महंगा हो जाता है. जिससे हर तरह की वस्तुओं में महंगाई की आशंका बढ़ जाती है. वर्ष 2021-22 के बजट में पेट्रोल और डीजल पर कृषि सेस लगाने का निर्णय लिया गया है. हालांकि, इस सेस का उपभोक्‍ताओं को अतिरिक्‍त बोझ नहीं पड़ेगा. वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि कृषि सेस को बढ़ाने के साथ ही बेसिक एक्‍साइज ड्यूटी और एडिशनल एक्‍साइज ड्यूटी के रेट को कम कर दिया गया है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.