मेहनाजपुर थाना गेट के सामने महिला ने खाया जहर, मौत

आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की तीन टीमें लगाई गई

0 2

आजमगढ़। मेहनाजपुर थाना गेट पर शनिवार की सुबह 11 बजे दुष्कर्म पीड़ित एक महिला ने जहर खा लिया और अचेत होकर गिर पड़ी। जानकारी पर पुलिस ने उसे मेहनाजपुर अस्पताल पहुंचाया, जहां से जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। रास्ते में उसकी मौत हो गई। इस मामले में लापरवाही पर एसपी ने थानाध्यक्ष को निलंबित कर दिया है। मौत की खबर सुनते ही मर्चरी हाउस पर लोगों की भीड़ एकत्र हो गई। महिला के तीनों पुत्र बाहर रहकर प्राइवेट कंपनी में नौकरी करते हैं। घर पर अकेले पति-पत्नी ही रहते थे। पति ने बताया कि चार दिन पूर्व ही गांव के दो व्यक्तियों ने रात 12 बजे दरवाजा खटखटया तो उन्होंने उठकर दरवाजा खोल दिया। उसके बाद महिला को घर से कुछ दूर स्थित एक विद्यालय में ले गए, जहां मारने-पीटने के बाद उसके साथ दुष्कर्म कर बेहोशी की हालत में छोड़कर फरार हो गए। सूचना पर डायल 112 पहुंची तो समझा-बुझाकर चली गई। दूसरे दिन थाने में आरोपितों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई, लेकिन कारवाई के नाम पर सिर्फ आश्वासन मिलता रहा।
इससे व्यथित महिला ने सुबह थाने के गेट पर जहर खा लिया। हालत बिगड़ते देख लोगों ने सीएचसी में भर्ती कराया, जहां डाक्टर ने जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया, लेकिन रास्ते में ही मौत हो गई।

इस संबंध में एसपी सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि महिला ने अपने गांव के दो लोगों पर मारपीट व दुराचार करने के संबंध में थाने पर तहरीर दी थी। थाने की पुलिस गांव में जांच के लिए गई थी। मेहनाजपुर थाने में दर्ज मुकदमे में धारा 306 की बढ़ोतरी की गई है। लापरवाही बरतने पर थाना प्रभारी चुन्ना सिंह को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है। आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की तीन टीमें लगाई गई हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.