यूपी में कोरोना से जान गंवाने वाले पत्रकारों के परिवार को 10 लाख की आर्थिक सहायता

0 0

लखनऊ। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 संक्रमण के दौरान जिन पत्रकारों की मृत्यु हुईं उनके परिजनों को लखनऊ में 5.50 करोड़ रुपए (प्रति पत्रकार परिवार 10 लाख रुपए) की आर्थिक सहायता प्रदान की। उन्होंने कहा कि कोरोना कालखंड में समाज के हितों के लिए कलम चलाते हुए अपने प्राणों की आहुति देने वाले पत्रकारों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनके शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं।

सीएम ने कहा कि पिछले लगभग सवा साल से पूरी दुनिया इस सदी की सबसे बड़ी महामारी से जूझ रही है। इस कोरोना काल में मीडिया ने जरूरी जानकारी देकर सरकार का ध्यान आकर्षित करने के साथ-साथ उसके अनुरूप रणनीति बनाने में भी हमारी मदद की है।

सीएम ने कहा कि एनबीए के चेयरमैन रजत शर्मा के सुझाव पर लोकतंत्र के एक सजग प्रहरी के रूप में मीडिया जगत में कार्यरत बंधुगणों के टीकाकरण हेतु प्रदेश में स्पेशल बूथ लगाए गए, जिसके सकारात्मक परिणाम मिल रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी की मंशा के अनुरूप वैक्सीन वेस्टेज को कम करने में मीडिया ने अहम भूमिका निभाई है।

सीएम ने कहा कि संकट के समय त्वरित निर्णय लेकर लोगों के जीवन में परिवर्तन के हम संवाहक बन सकते हैं। इस कोरोना कालखंड में समयबद्ध ढंग से बनाई गई रणनीति कैसे एक बड़ी आबादी को सुरक्षा कवच दे सकती है, यह आज किसी से छुपा नहीं है। कोरोना कालखंड में जो लोग दिवंगत हुए हैं उनकी कमी की पूर्ति कभी नहीं हो सकती, लेकिन उनके परिवार के लिए समाज एवं सरकार का साथ एक संबल होता है, आगे बढ़ने के लिए एक प्रेरणा होती है। कोरोना कालखंड के दौरान कोविड या अन्य किसी भी वजह से अनाथ हुए बच्चों के उज्ज्वल भविष्य हेतु मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना प्रारंभ की गई है। यूपी सरकार निराश्रित महिलाओं के हितार्थ एवं दिवंगत पत्रकार बंधुओं के परिवार के साथ हमेशा है। वर्तमान समय बिना किसी भेदभाव व दुराग्रह के लोगों के साथ हर परिस्थिति में खड़े होने का है। इस कोरोना काल के दौरान जिन्होंने अपने परिवार के सदस्यों को खोया है, मैं उन्हें आश्वस्त करता हूं कि यूपी सरकार सदैव उनके साथ है।

कोरोना से जान गंवाने वाले पत्रकार
रोहित सरदाना-नोएडा, प्रमोद श्रीवास्तव, लखनऊ, पंकज कुलश्रेष्ठ-आगरा, कुणाल श्रीवास्तव-नोएडा, शिव नंदन साहू-कौशांबी, सच्चिदानंद गुप्ता-लखनऊ, हिमांशु जोशी-लखनऊ, अंजनी कुमार निगम-बांदा, अनिल श्रीवास्तव-बस्ती, राजीव पवैया-ललितपुर, अंकित शुक्ला-लखनऊ, शफी अहमद-रामपुर,राकेश चतुर्वेदी- वाराणसी, मुन्ना लाल-कासगंज, अंकित श्रीवास्तव-सिद्धार्थनगर, कैलाशनाथ-  जौनपुर, अमरेंद्र सिंह-लखनऊ, मधुसूदन त्रिपाठी-लखनऊ, सुशीला देवी-बस्ती, ऊषा अग्रवाल-मुरादाबाद,अरुण पांडेय-कानपुर,राम नरेश तिवारी-औरैया, सलाउद्दीन शेख-लखनऊ,के के सिन्हा-अयोध्या।

Leave A Reply

Your email address will not be published.