साड़ी पहन स्केटिंग कर 11 साल की बच्ची ने शुरू किया जागरुकता अभियान

कोरोना वैक्सीन लगवाने की रही अपील

0 4

सीतापुर। उत्तर प्रदेश के सीतापुर जिले में एक 11 वर्षीय बच्ची साड़ी पहनकर और गांव की गलियों में स्केटिंग करते हुए लोगों को कोविड वैक्सीन लगाने के लिए जागरूक कर रही हैं। बच्ची ने बताया कि मुझे आइडिया आया कि मुझे स्केटिंग पहनकर लोगों को जागरूक करना चाहिए। सभी लोग वैक्सीन लगाए और मास्क पहनें। बेहद अनोखे तरीके से शुरू किये इस जागरुकता अभियान की चर्चा सीतापुर की हर गली हर मोहल्ले में हो रही है।

गुलाबी रंग की साड़ी पहने 11 साल की नन्ही परी का नाम श्री गुप्ता है, जिसके वीडियो इंटरनेट मीडिया पर छाए हैं। वह आसपास गांवों में ग्रामीणों को कोरोना टीकाकरण के लिए जगा रही है। श्री गुप्ता के पिता की सीतापुर में कलर लैब हैं। पांचवीं की छात्रा श्री पिछले दिनों अपने बाबा संजय कुमार गुप्त और दादी रमा गुप्ता को वैक्सीन लगवाने के लिए रामकोट स्वास्थ्य केंद्र गई थी। यहां पर श्री के बाबा-दादी ने काफी देर इंतजार किया, इसके बावजूद दोनों के वैक्सीन नहीं लग पाई।

जिसके बाद श्री स्वास्थ्य कर्मियों के पास पहुंच गई और कोरोना टीका न लगाने का कारण पूछा। इस पर कर्मियों ने उसे बताया कि वे वैक्सीन की वायल तभी खोल सकते हैं, जब एक साथ 10 लाभार्थी हों। सिर्फ दो लोगों के लिए वायल खोली जाए तो कई डोज खराब हो जाएंगी। इस पर श्री ने वहीं स्वास्थ्य कर्मियों से कारण पूछा। इस पर स्वास्थ्य कर्मियों ने गांव में फैली भ्रांतियों के बारे में जानकारी दी। बस, यहीं से श्री ने लोगों को जगाने का फैसला कर लिया। श्री के बाबा-दादी का टीकाकरण बाद में पड़ोस के ही जैतीखेड़ा में करवाया गया।

श्री गुप्ता ने कहा कि अभी ऑनलाइन पढ़ाई कर रही है। ऑनलाइन क्लास में ही उसे साड़ी पहनकर लोगों को जागरूक करने का टास्क दिया गया था। बस, इसी के बाद श्री ने साड़ी पहन ली। उसे स्केटिंग भी पसंद है। ऐसे में वह साड़ी पहनकर स्केटिंग करते हुए लोगों को जागरूक करने के लिए जाती है। श्री बुजुर्ग लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए जागरुक कर रही है। इसी दौरान एक बुजुर्ग कहते हैं कि वैक्सीन सबको शूट नहीं करती। इस पर भी श्री उन्हें यह समझाती है कि ये ठीक नहीं है। मेरे दादा-दादी ने वैक्सीन लगवाई है, वे बिल्कुल ठीक हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.