Monday , August 8 2022
नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर सरकार ने जारी किया 125 रुपये का सिक्का
नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर सरकार ने जारी किया 125 रुपये का सिक्का

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर सरकार ने जारी किया 125 रुपये का सिक्का

लखनऊ: सरकार नेता सुभाष चंद्र बोस की जन्मदिन के मौके पर 125 रुपये का सिक्का जारी करेगी. 23 जनवरी को आजाद हिंद फौज के संस्थापक नेताजी सुभाष चंद्र बोस का जन्मदिन होता है. सरकार इसी मौके पर इस सिक्के को जारी करेगी. हालांकि इसके पहले भी 125 रुपये का सिक्का जारी हो चुका है. भारतीय रेलवे ने भी नेताजी की 125वीं वर्षगांठ पर हावड़ा-कालका मेल का नाम बदलकर ‘नेताजी एक्सप्रेस’ रख दिया है.

पहले भी जारी हुआ था 125 रुपये का सिक्का

इसके पहले 29 अक्टूबर 2019 को प्रसिद्ध योगी और योगदा सत्संग सोसायटी ऑफ इंडिया और सेल्फ-रियलाइजेशन फेलोशिप के संस्थापक परमहंस योगानंद की 125वीं जयंती पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 125 रुपये का स्मारक सिक्का जारी किया था. परमहंस योगानंद को पश्चिमी देशों में ‘योग पिता के तौर पर जाना जाता है.

सिक्का कैसा होगा

सिक्के के पिछले हिस्से में नेताजी का चित्र होगा. इसके ठीक ऊपर हिन्दी में लिखा होगा ‘नेताजी सुभाष चंद्र बोस का 125वाँ जयंती वर्षन. निचले हिस्से में अंग्रेजी में लिखा होगा ‘125TH BIRTH ANNIVERSARY YEAR OF NETAJI SUBHAS CHANDRA BOSE’. नीचे जारी करने का साल 2021 अंकित होगा.

कैसे होंगे सिक्के के दोनों पहलू

नेताजी की 125वीं जयंती पर जारी हो रहे सिक्के के अगले भाग में बीच में अशोक स्तंभ की आकृति होगी, इस आकृति के नीचे ‘सत्यमेव जयते’ लिखा होगा. बाईं परिधि पर देवनागरी में ‘भारत’ और दाईं परिधि पर अंग्रेजी में ‘INDIA’अंकित होगा. अशोक स्तम्भ के ठीक नीचे रुपये के प्रतीक चिन्ह के साथ अंकों में सिक्के का मूल्य यानी 125 लिखा होगा.

केंद्र सरकार ने उनकी जयंती को पराक्रम दिवस के रूप में मनाने का फैसला किया है. इस अवसर पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू और प्रधानमंत्री मोदी समेत अन्य नेताओं ने उन्हें याद किया और श्रद्धांजलि दी. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट करके कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस के 125वें जयंती वर्ष के समारोहों के शुभारंभ के अवसर पर उनको सादर नमन. राष्ट्रपति कोविंद ने यह भी कहा कि भारत के स्वतंत्रता संग्राम में असाधारण योगदान देने वाले नेताजी हमारे सबसे प्रिय राष्ट्र नायकों में से एक हैं.

सुभाष चंद्र बोस की आज 125 वीं जयंती

महान स्वतंत्रता सेनानी और आजाद हिंद फौज के संस्थापक नेताजी सुभाष चंद्र बोस की आज 125 वीं जयंती है. इस अवसर पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू और प्रधानमंत्री मोदी समेत अन्य नेताओं ने उन्हें याद किया और श्रद्धांजलि दी.

महान स्वतंत्रता सेनानी और आजाद हिंद फौज के संस्थापक नेताजी सुभाष चंद्र बोस की आज 125 वीं जयंती है. केंद्र सरकार ने उनकी जयंती को पराक्रम दिवस के रूप में मनाने का फैसला किया है. इस अवसर पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू और प्रधानमंत्री मोदी समेत अन्य नेताओं ने उन्हें याद किया और श्रद्धांजलि दी. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट करके कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस के 125वें जयंती वर्ष के समारोहों के शुभारंभ के अवसर पर उनको सादर नमन.

भारत के स्वतंत्रता संग्राम में असाधारण योगदान

उनके अदम्य साहस और वीरता के सम्मान में पूरा राष्ट्र उनकी जयंती को ‘पराक्रम दिवस’ ​​के रूप में मना रहा है. नेताजी ने अपने अनगिनत अनुयायियों में राष्ट्रवाद की भावना का संचार किया. राष्ट्रपति कोविंद ने यह भी कहा कि भारत के स्वतंत्रता संग्राम में असाधारण योगदान देने वाले नेताजी हमारे सबसे प्रिय राष्ट्र नायकों में से एक हैं. उनकी देशभक्ति और बलिदान से हमें सदैव प्रेरणा मिलती रहेगी. उन्होंने आजादी की भावना पर बहुत बल दिया और उसे मजबूत बनाने के लिए हम पूर्णतया प्रतिबद्ध हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करके कहा कि महान स्वतंत्रता सेनानी और भारत माता के सच्चे सपूत नेताजी सुभाष चंद्र बोस को उनकी जन्म-जयंती पर शत-शत नमन. कृतज्ञ राष्ट्र देश की आजादी के लिए उनके त्याग और समर्पण को सदा याद रखेगा.

Leave a Reply