दुष्कर्म के बाद गर्भवती हुई 13 साल की बच्ची, जेल में बंद आरोपी पर लगा NSA

0 9

बलरामपुर। आखिर किस पर करें भारोसा. जब अपने ही अपनो के साथ छल करने लगेगें तो कौन किसपे करेगा विश्वास, आज एक  घाटना ने दिन को झकझोर कर रख दिया है। एक महिला के सहयोग से आरोपी ने नाबालिग से रेप किया । रेप का शिकार बनी नाबालिग बच्ची के गर्भवती होने की पुष्टि के बाद जिला प्रशासन ने जेल में बंद आरोपी पर रासुका (NSA) के तहत कार्रवाई की है।

मामला बलरामपुर के तुलसीपुर थाना क्षेत्र के गनवरिया गांव का है। यहां 13 वर्षीय पीड़िता पिता और दो छोटे भाइयों के साथ रहती थी। उसकी मां की मौत पहले ही हो चुकी है, जबकि पिता ट्रक ड्राइवर होने के कारण अक्सर घर से बाहर रहते हैं। 19 जुलाई 2020 को तुलसीपुर थाने में दर्ज एफआईआर के मुताबिक, पीड़िता के पड़ोस में रहने वाली एक महिला शबनम ने एक दिन नाबालिग बच्ची को अपने घर बुलाया और फिर उसे एक कमरे में बंद कर दिया। उसके बाद आरोपी शबनम ने अपने रिश्तेदार रेहान को घर बुलाया।

नाबालिग दर्द से बेहाल

रेहान ने शबनम के घर में ही उस नाबालिग बच्ची के साथ रेप किया। इसके बाद दोनों ने मुंह खोलने पर नाबालिग पीड़िता को जान से मारने की धमकी भी दी। फिर पीड़िता को उसके घर पहुंचा दिया गया. घर पहुंची नाबालिग दर्द से बेहाल थी. घर आने पर पिता ने जब अपनी बेटी का हाल देखा तो उससे पूछताछ की. पीड़िता ने अपने पिता से सारी बात बताई. 19 जुलाई 2020 को पिता की तहरीर पर तुलसीपुर थाने में 376 और पाक्सो एक्ट के तहत रेहान और शबनम के खिलाफ केस दर्ज किया गया।

जिला जेल में बंद हैं दोनों आरोपी

शबनम और रेहान दोनों ही इस समय बलरामपुर जिला कारागार में बंद हैं. दो दिन पूर्व खबर आयी कि रेप की शिकार नाबालिग गर्भवती हो चुकी है और उसे 3 माह का गर्भ है. इसे वीभत्स रेप की घटना मानते हुये जिला प्रशासन ने अभियुक्त के खिलाफ रासुका के तहत कार्यवाई की है।

डीएम कृष्ण करुणेश ने बताया कि रेप की शिकार नाबालिग बच्ची के गर्भवती होने की सूचना पर इस घटना को वीभत्स मानते हुये कड़ी कार्रवाई की गयी और रासुका लगाने का निर्णय लिया गया. डीएम के द्वारा रासुका के तहत पारित निरुद्ध आदेश को जिला कारागार में तामील करा दिया गया है।

गैस सप्लाई करने वाली फैक्ट्री में ब्लास्ट, तीन मजदूर घायल

 

बाराबंकी में संदिग्ध स्तिथि में महिला की मौत, सास-ससुर समेत नौ पर मुकदमा दर्ज

Leave A Reply

Your email address will not be published.