Saturday , May 21 2022

Happy Birthday : जब 11वीं कक्षा में प्रीती को दिल दे बैठे थे रवि किशन

मुंबई : भोजपुरी फिल्मों के साथ-साथ राजनीति के मैदान में भी पारी खेल चुके अभिनेता रवि किशन आज किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं. अपनी कला और मेहनत के दम पर रवि किशन को, ये मुकाम हासिल करने में काफी संघर्षों का सामना करना पड़ा. मुंबई के संताक्रूज में 17 जुलाई 1969 को जन्में रवि किशन ने एक सफल अभिनेता के रूप में कई किरदार निभाएं हैं. उनके ये किरदार दर्शकों के बीच काफी यादगार रहें हैं.

शौख को दी पहली प्राथमिकता

बचपन से ही एक्टिंग का शौख रखने वाले रवि किशन के पिता पं श्यामनारायण शुक्ला चाहते थे कि वह उनका दूध का व्यापार संभाले लेकिन इस दबाव के बावजूद रवि ने अपने शौख को पहली प्राथमिकता देना सही समझा. बचपन में रवि घरवालों से छुपकर रामलीला में सीता का रोल किया करते थे. रवि किशन ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया था कि इस बात का पता चलने के बाद, उनके पिता ने उनकी खूब पिटाई की थी.

हिंदी और भोजपुरी के साथ ही तेलुगू फिल्मों में भी किया काम

हिंदी और भोजपुरी सिनेमा के साथ ही वे कुछ तेलुगू फिल्मों में भी काम कर चुके हैं. वह 2012 में झलक दिखलाजा-5 पर भी एक प्रतियोगी रहे थे. इतना ही नहीं उन्होंने साल 2006 में बिग बॉस में भी भाग लिया था जिसमें उनका 90 दिनों का सफ़र लाजवाब था. इस शो के बाद जब रवि किशन बाहर निकले तो उनके लिए बॉलीवुड से लेकर भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री के सभी रास्ते पूरी तरह से खुल गए.

सर्वश्रेष्ठ सह- अभिनेता के राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाज़ा गया

बता दें कि साल 2003 में रिलीज़ हुई सलमान खान की फिल्म ‘तेरे नाम’ में उन्होंने भूमिका चावला के मंगेतर का किरदार निभाया था. ये फिल्म उनके करियर के लिए काफी सफल साबित हुई थी. इस फिल्म के लिए रवि किशन को सर्वश्रेष्ठ सह- अभिनेता के राष्ट्रीय पुरस्कार से भी नवाज़ा गया था. वहीं साल 2005 में आई उनकी भोजपुरी फिल्म ‘कब होई गवनवा हमार’ को सर्वश्रेष्ठ क्षेत्रीय फिल्म का राष्ट्रीय पुरस्कार मिला था. वे एक ऐसे अभिनेता हैं जिन्हें एक साथ हिंदी और भोजपुरी के ‘राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार’ मिलने वाली फिल्मों का हिस्सा बनने का गौरव मिला.

11 कक्षा में ही प्रीती को दिल दे बैठे

वहीँ करीब 26 साल पहले शादी के पवित्र बंधन में बंधे रवि और प्रीती एक दुसरे को काफी समय से जानते हैं. रवि किशन भले ही आए दिन चर्चा में बने रहते हो, लेकिन प्रीती लाइमलाइट से दूर ही रहना पसंद करती हैं. एक इंटरव्यू के दौरान रवि ने बताया था की वे कक्षा 11 में ही प्रीती को दिल दे बैठे थे. तभी से ही वे प्रीती को पसंद करने लगे थे और उन्हें अपने लाइफपार्टनर बनाना भी चाहते थे.

भोजपुरी एक्ट्रेस रानी चटर्जी के साथ भी जुडा था नाम

लेकिन इससे पहले उनका नाम भोजपुरी एक्ट्रेस रानी चटर्जी के साथ भी जुड़ चूका है. काफी समय पहले एक इवेंट में रवि किशन और रानी चटर्जी को साथ में देखा गया था, तब उन्होंने रानी की शादी को लेकर मीडिया से बातचीत में कहा था कि अगर उनकी शादी नहीं हुई होती तो वो खुद उनसे शादी कर लेते. दोनों एक्टर्स जब साथ होते हैं तो एक अच्छा बांड शेयर करतें हैं वहीँ दोनों की जोड़ी को ऑफ़स्क्रीन भी काफी पसंद किया जाता है.

Leave a Reply