Monday , September 26 2022
जैसलमेर में अडाणी ग्रीन के हाइब्रिड ऊर्जा संयंत्र का परिचालन शुरू
जैसलमेर में अडाणी ग्रीन के हाइब्रिड ऊर्जा संयंत्र का परिचालन शुरू

जैसलमेर में अडाणी ग्रीन के हाइब्रिड ऊर्जा संयंत्र का परिचालन शुरू

नयी दिल्ली। अडाणी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड (एजीईएल) की इकाई अडाणी हाइब्रिड एनर्जी जैसलमेर वन लिमिटेड ने राजस्थान के जैसलमेर में 390 मेगावॉट के पवन एवं सौर हाइब्रिड ऊर्जा संयंत्र का परिचालन शुरू कर दिया है। कंपनी ने एक बयान में बताया कि यह भारत का पहला पवन-सौर हाइब्रिड ऊर्जा उत्पादन संयंत्र है। हाइब्रिड ऊर्जा संयंत्र में सौर और पवन ऊर्जा उत्पादन का मेल होता है जो इसे नवीकरणीय ऊर्जा का पूरा लाभ उठाने के लायक बनाता है। कंपनी के मुताबिक ऊर्जा की बढ़ती मांग के लिए यह अधिक भरोसेमंद समाधान देगा।
एजीईएल के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी विनीत एस जैन ने कहा, ‘‘पवन और सौर ऊर्जा का मिश्रण हमारी कारोबारी रणनीति का अहम पहलू है जिसका उद्देश्य हरित ऊर्जा के लिए भारत की बढ़ती जरूरत पूरी करना है।’’
उन्होंने कहा कि इस हाइब्रिड ऊर्जा संयंत्र का परिचालन शुरू होना भारत के टिकाऊ ऊर्जा लक्ष्यों को पाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। बयान के मुताबिक, नए ऊर्जा संयंत्र के लिए भारतीय सौर ऊर्जा निगम (एसईसीआई) के साथ 2.69 प्रति किलोवॉट की शुल्क दर से ऊर्जा खरीद समझौता किया गया है जो राष्ट्रीय स्तर पर औसत ऊर्जा खरीद शुल्क (एपीपीसी) से काफी कम है। इस संयंत्र से परिचालन शुरू होने के साथ ही एजीईएल की परिचालन क्षमता बढ़कर 5.8 गीगावॉट हो गई है।