Friday , August 12 2022

गाजियाबाद हादसे पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव बोले- श्मशान से बीजेपी का पुराना नाता

लखनऊ। यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को लखनऊ स्थित पार्टी मुख्यालय में एक प्रेसवार्ता की। इस दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि योगी सरकार ने व्यापारियों की कोई मदद नहीं की। बैंकों ने भी सहयोग नहीं किया। लॉकडाउन के दौरान कारखाने और प्रतिष्ठान बंद रहे, फिर भी उन्हें बिजली का बिल देना पड़ रहा है।

अखिलेश ने कहा कि इस सरकार में व्यापारी सुरक्षित नहीं

अखिलेश ने कहा कि इस सरकार में व्यापारी सुरक्षित नहीं। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सरकार में सबसे ज्यादा लूट और हत्या की घटनाएं व्यापारियों के साथ हुई हैं। कोई कार्रवाई नहीं हुई। सपा सरकार बनने पर व्यापारियों का डाटा बनाएंगे। उन्हें डायल 112 से जोड़ा जाएगा और व्यापारियों को सुरक्षा दी जाएगी। अखिलेश यादव नें कहा कि बीजेपी इवेंट मैनेजमेंट करती है और दिखावटी काम करती है। हमने कोरोना वैक्सीन को लेकर विशेषज्ञों और वैज्ञानिकों पर कोई सवाल नहीं उठाए थे। सवाल भाजपा के फैसलों पर है।

जनता को भाजपा सरकार पर भरोसा नहीं है

भाजपा सरकार ने अभी तक जो भी फैसले किए हैं, उससे जनता को नुकसान हुआ है। जनता को भाजपा सरकार पर भरोसा नहीं है। सरकार से हमारा सवाल है कि गरीबों को वैक्सीन कब मिलेगी? उन्होंने पूछा कि एक साल में, दो साल में या तीन साल में…। उन्होंने पूछा कि वैक्सीन गरीबों को मुफ्त मिलेगी या नहीं? सपा प्रदेश मुख्यालय पर समाजवादी व्यापार सभा की बैठक के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि वाट्स एप से लेकर अखबारों और अन्य स्थानों पर कोरोना वैक्सीन को लेकर जो खबरें चल रही हैं उस पर सरकार को बयान देना चाहिए। सच्चाई सामने आनी चाहिए। व्यापारियों को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ।

कोरोना वैक्सीन न लगवाने के बयान पर दी सफाई

अखिलेश यादव ने 2 दिन पहले वैक्सीन को लेकर दिए बयान पर सफाई दी। उन्होंने कहा कि मेरी पूरी बात को नहीं रखा गया। मैंने भारतीय साइंटिस्ट और वैक्सीन बनाने वालों पर कोई कमेंट नहीं किया। सबका सम्मान है। सबकी मेहनत को सलाम है। बीजेपी के फैसलों पर जनता को विश्वास नहीं है।

बीजेपी का श्मशान से पुराना नाता

अखिलेश यादव ने गाजियाबाद हादसे के बहाने योगी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि बीजेपी के नेताओं का श्मशान से पुराना नाता रहा है। गाजियाबाद में बालू से लेंटर बना दिया गया। लोगों की मौत के लिए सरकार जिम्मेदार है। इससे पहले बनारस में भी बड़ी घटना हुई थी। जिसमें भी सपा ने 50 लाख रुपए मुआवजा देने की मांग की थी। दो लाख रुपए में क्या होता है? सरकार को कम से कम 50 लाख की मदद करनी चाहिए।

किसी भी बड़े राजनीतिक दल से गठबंधन नहीं किया जाएगा

अखिलेश यादव ने एक बार दोहराया कि समाजवादी पार्टी की सरकार किसी भी बड़े राजनीतिक संगठन से गठबंधन नहीं करेगी। कहा कि सपा के साथ जो सहयोगी छोटे दल थे उन्हीं के साथ वह 2022 का चुनाव लड़ेगी। अन्य छोटे राजनीतिक दल उनसे जुड़ना चाहेंगे, उस पर विचार किया जाएगा।

कन्नौज में परफ्यूम पार्क का प्रोजेक्ट बंद किया

अखिलेश यादव ने कहा कि कन्नौज का इतिहास है। मैं फ्रांस गया था। वहां के लोगों से मिला। तय किया था कि कन्नौज में परफ्यूम पार्क बनाऊंगा। लेकिन भाजपा सरकार ने इस प्रोजेक्ट को बंद कर दिया। सरकार भूल गई कि ये काम किसान का था, सपा का नहीं था। किसानों पर आंसू गैस के गोले फेंके जा रहे हैं। सरकार कहती है हम किसान के साथ है।

Leave a Reply