Thursday , October 6 2022

झूठे वादे करना केजरीवाल की आदत,बोले-अनुराग ठाकुर

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने शुक्रवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आरोपों का पूरी तरह से खंडन करते हुए कहा की भय, भ्रम और अफवाह फैलाना उनकी पुरानी आदत है। वह राजनीति में ही झूठ बोल कर आए थे और कई बार उनका यह झूठ उजागर भी हुआ है। ठाकुर ने विभिन्न मुद्दों पर समय-समय पर केजरीवाल और उनकी सरकार की गलत बयानी का भी उल्लेख किया है।

अनुराग ठाकुर ने आरोप लगाया कि केजरीवाल ने भ्रष्टाचार के मुद्दे पर चुनाव लड़ा लेकिन आज भ्रष्ट सरकार चला रहे हैं। ठाकुर ने कहा की जिनका स्वास्थ्य मंत्री ही जेल में हो उस दिल्ली की स्वास्थ्य सुविधाएं कैसी होंगी। मोहल्ला क्लीनिक कैसे और किस हालत में है, सारी दुनिया को पता है। झूठे वादे करना इनकी आदत बन गई है। जब देश वैश्विक महामारी से जूझ रहा था, उस समय गरीबों से इन्होंने कहा कि हम उनका किराया देंगे। मुफ्त में अनाज देंगे। लेकिन अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली से गरीबों को भगाने का काम किया।

केजरीवाल के मुफ्त शिक्षा और स्वास्थ्य वाले बयानों को भ्रामक बताते हुए ठाकुर ने कहा कि समग्र शिक्षा तो हम पूरे देश में अटल जी के जमाने से चलाते आ रहे हैं। आयुष्मान भारत जैसी योजना देश भर में मोदी चला रहे हैं। आपके स्वास्थ्य मंत्री जेल में हैं और शराब मंत्री पर 144 करोड़ रुपये के घोटाले का आरोप है। अनुराग ठाकुर ने कहा की जब भी अरविंद केजरीवाल अपने आप को घिरा हुआ पाते हैं तब झूठी और सनसनीखेज अफवाहें फैलाते हैं। लेकिन जनता अब उनपर विश्वास नहीं करती। मोदी सरकार ने आपदा के समय भी 61,500 करोड़ रुपये के मनरेगा के बजट को बढ़ाकर 1,11,500 करोड़ रुपये किया।

उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाया: संजय सिंह

आप के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने शुक्रवार को प्रेस वार्ता के दौरान केंद्र सरकार पर उद्योगपतियों को लाखों करोड़ का फायदा पहुंचाने का आरोप लगाया है। सिंह ने कहा कि आरटीआई से खुलासा हुआ है कि केंद्र सरकार ने अपने दोस्तों का लाखों करोड़ रुपये माफ किया। जबकि भाजपा नेताओं ने झूठ बोला कि 8 लाख करोड़ वापस आ गया। उन्होंने कहा कि केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री भागवत कराड ने सदन में कहा कि 5 वर्ष में केवल 86,986 करोड़ ही वसूला गया है। केंद्र ने पूंजीपतियों का कॉरपोरेट टैक्स 30 फीसदी से 22 फीसदी किया। अगर ऐसा नहीं करते तो जनता के भोजन पर जीएसटी नहीं लगानी पड़ती।

मुफ्त की सौगात का मकसद सियासी लाभ लेना: भाजपा

भाजपा ने मुफ्त की सौगात बांटे जाने के मुद्दे पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर पलटवार करते हुए इसे राजनीतिक लाभ के लिए जनता को फंसाने वाली पहल करार दिया है। पार्टी प्रवक्ता संबित पात्रा ने शुक्रवार को कहा कि यह केंद्र की कल्याणकारी योजनाओं से भिन्न है, क्योंकि उनका लक्ष्य समाज के कमजोर वर्गों का सशक्तिकरण है।