Wednesday , July 6 2022

लव जिहाद पर कानून को ओवैसी ने बताया संविधान का उल्लंघन, जाने क्या बोले AIMIM अध्यक्ष

नई दिल्ली : देश में लव जिहाद का मुद्दा इस समय फिर से चर्चा में आ गया है. हरियाणा, मध्य प्रदेश समेत उत्तर प्रदेश की सरकारे इसे लेकर कड़े कानून लाने पर विचार कर रहीं हैं. इसी बीच ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने इस तरह के कानून को संविधान की भावना के खिला बताया. ओवैसी ने कहा कि जिन राज्यों में लव जिहाद को लेकर कानून बनाए जाने की बात कही जा रही है वो संवैधानिक प्रावधानों का उल्लंघन है.

लव जिहाद के खिलाफ बनने वाले कानून पर ओवैसी ने कहा कि यह अनुच्छेद 14 और 21 का घोर उल्लंघन होगा. इसके के तहत विशेष विवाह अधिनियम को भंग किया जाएगा. अंतर-धार्मिक विवाह का विरोध करने वालों को संविधान का अध्ययन करना चाहिए. नफरत का ऐसा प्रचार काम नहीं करेगा. बीजेपी बेरोजगारी का शिकार हुए युवाओं को विचलित करने के लिए यह नाटक कर रही है.

समाचार एजेंसी से बातचीत में ग्रेटर हैदराबाद नगरनिगम चुनाव पर ओवैसी ने कहा कि हैदराबाद बाढ़ प्रभावित रहा है. मोदी सरकार ने हैदराबाद को कौन सी वित्तीय सहायता प्रदान की है? वे इसे (चुनाव) सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश कर रहे हैं क्योंकि उन्होंने उस समय कोई मदद नहीं की. उनकी यह चाल यहां काम नहीं करेगी, लोग जानते हैं.

ओवैसी ने बीजेपी पर सीधा निशाना साधा. उन्होंने कहा कि यदि आप रात में एक बीजेपी नेता को जगाते हैं और उनसे कुछ नाम बताने के लिए कहते हैं, तो वे ओवैसी का नाम लेंगे. इसके बाद वो गद्दार, आतंकवाद और अंत में पाकिस्तान पर आ जाएंगे. बीजेपी को बताना चाहिए कि 2019 के बाद उन्होंने तेलंगाना को, खासकर हैदराबाद को कौन सी वित्तीय मदद मुहैया कराई है.

 

Leave a Reply