Thursday , October 6 2022

Asia cup 2022: हार्दिक पांड्या और भुवनेश्वर बने जीत के नायक

नई दिल्ली:– पाकिस्तान के विरुद्ध हार्दिक पांड्या को खेलना रास आता है और पिछले एशिया कप टी-20 में भी उनकी गेंदबाजी शानदार थी तो इस बार भी उन्होंने गेंद और बल्ले से दमदार प्रदर्शन करके भारत को आखिरी ओवर में छक्के के साथ जीत दिलाई। हार्दिक (3/25) की मदद से भारत ने रविवार को दुबई में एशिया कप टी-20 के रोमांचक मैच में पाकिस्तान पर पांच विकेट से जीत दर्ज की। पाकिस्तान पर जीत के साथ देश में खुशी की लहर दौड़ गई और हर कोई अपने अंदाज में जश्न मनाने लगा। इस जीत के साथ ही भारत ने टूर्नामेंट में विजयी आगाज किया।

हार्दिक का अच्छा साथ भुवनेश्वर (4/26) ने भी दिया और उनके आगे पाकिस्तानी बल्लेबाज बेबस नजर आए और पूरी टीम 19.5 ओवर में 147 रनों पर ही सिमट गई। पाकिस्तान के लिए सर्वाधिक रन मोहम्मद रिजवान ने बनाए। उन्होंने 42 गेंदों में 43 रनों की उपयोगी पारी खेली। उनके अलावा इफ्तिखार अहमद (28) ही कुछ हद तक भारतीय गेंदबाजों का सामना कर पाए।

जवाब में हार्दिक की नाबाद 33 रनों की उपयोगी पारी की मदद से भारत ने पांच विकेट खोकर 19.4 ओवर में 148 रन बनाते हुए मैच अपने नाम कर लिया। हार्दिक के अलावा रवींद्र जडेजा (35) और विराट कोहली (35) ने भी अपना-अपना अहम योगदान दिया। कप्तान रोहित शर्मा (12) और लोकेश राहुल (0) ने टीम को निराश किया। इस बीच, रवींद्र जडेजा और हार्दिक पांड्या ने पांचवें विकेट के लिए 52 रनों की साझेदारी करके टीम को संभाला। लेकिन जडेजा भी हार्दिक का साथ छोड़कर पवेलियन लौट गए।
आखिरी ओवर में मिली जीत: इसके बाद भारतीय टीम को आखिरी ओवर में जीत के लिए छह गेंदों में सात रनों की जरूरत थी। लेकिन नवाब ने पहली गेंद पर जडेजा को बोल्ड कर दिया। फिर अगली गेंद पर कार्तिक ने एक रन लेकर हार्दिक को स्ट्राइक दी। तीसरी गेंद पर हार्दिक ने कोई रन नहीं लिया, लेकिन चौथी गेंद पर छक्के के साथ टीम को जीत दिलाई
हार्दिक के सहारे भारत : पिछले साल टी-20 विश्व कप में हार्दिक का प्रदर्शन खराब रहा था। वह बल्लेबाजी में अच्छा योगदान नहीं दे पा रहे थे तो गेंदबाजी में भी वह धार नहीं दिख रही थी। सभी जगह से उनकी आलोचना हो रही थी और लग रहा था कि किसी खिलाड़ी की मैदान वापसी मुश्किल होगी। लेकिन हार्दिक ने आइपीएल के जरिये मैदान पर शानदार वापसी की। उन्होंने अपनी कप्तानी में इस साल आइपीएल की टीम गुजरात टाइटंस को खिताब दिलाया।
बड़ा फैसला : इससे पहले भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने ओस को देखते हुए टास जीतकर पहले गेंदबाजी चुनने का फैसला किया। टीम प्रबंधन ने विशेषज्ञ विकेटकीपर के तौर पर रिषभ पंत की जगह दिनेश कार्तिक को अंतिम एकादश में शामिल करके बड़ा फैसला किया। पाकिस्तान की ओर से नसीम शाह ने टी-20 अंतरराष्ट्रीय में पदार्पण किया।

पावरप्ले में भुवनेश्वर भारी : कप्तान रोहित के फैसले को भुवनेश्वर ने सही साबित कर दिया। वैसे आशा था कि इस मैच में पावरप्ले का रोमांच देखने को मिलेगा। क्योंकि बाबर और उनके साथी सलामी बल्लेबाज मोहम्मद रिजवान ने जनवरी 2021 के बाद से साथ में 1000 से ज्यादा टी-20 अंतरराष्ट्रीय में रन बनाए हैं तो भुवनेश्वर ने भी इस साल टी-20 अंतरराष्ट्रीय में अपने 21 में से 13 विकेट पावरप्ले में ही हासिल किए। भुवनेश्वर के सामने दोनों सलामी बल्लेबाज असहज नजर आए। पारी की दूसरी गेंद में भुवनेश्वर की अपील पर मैदानी अंपायर ने मोहम्मद रिजवान को एलबीडब्ल्यू कर दिया था। लेकिन रिजवान ने रिव्यू लिया और टीवी अंपायर ने मैदानी अंपायर के फैसले को बदल दिया। इसके बाद चौथी गेंद पर बाबर ने चौके साथ अपना खाता खोला। फिर छठी गेंद पर रिजवान के विरुद्ध ही भारत ने रिव्यू लिया और वह नाटआउट रहे।

अगले ओवर में बायें हाथ के तेज गेंदबाज अर्शदीप सिंह की आखिरी गेंद पर बाबर ने चौके साथ इस ओवर का समापन किया। लेकिन वह अगली गेंद पर भुवनेश्वर से नहीं बच पाए। भुवनेश्वर ने शार्ट गेंद फेंकी और बाबर उसे संभाल नहीं पाए और शार्ट फाइन लेग पर अर्शदीप को कैच दे बैठे। बाबर नौ गेंदों में सिर्फ 10 रन ही बना पाए। बाबर के आउट होने के बाद रिजवान पर इसका असर दिखने लगा और वह पारी का चौथा ओवर डाल रहे अर्शदीप के इस ओवर में सिर्फ एक चौका लगा पाए और पांच गेंदों में कोई रन नहीं बना पाए। पावरप्ले का आखिरी छठा ओवर करने आए तेज गेंदबाज आवेश खान के इस ओवर में रिजवान ने एक छक्का और एक चौका लगा दिया तो उन्होंने फखर जमां को दिनेश कार्तिक के द्वारा कैच आउट कराकर भारतीय टीम को दूसरी सफलता दिलाई।

हार्दिक ने पवेलियन भेजा : इस बीच, पाकिस्तान की पारी को संभाल रहे इफ्तिखार अहमद को हार्दिक ने चलता किया। हार्दिक ने बाउंसर डाली और हार्दिक विकेटकीपर कार्तिक को कैच दे बैठे। फिर उन्होंने 15वें ओवर की पहली गेंद पर रिजवान को अर्धशतक लगाने से रोक दिया। उन्होंने शार्ट गेंद फेंकी और इस पर पाकिस्तानी बल्लेबाज अर्शदीप को कैच दे बैठे। हार्दिक यही नहीं रुके और तीसरी गेंद पर खुशदिल शाह (02) को भी पवेलियन भेज दिया।
हैट्रिक से चूके भुवनेश्वर : भुवनेश्वर फिर से गेंदबाजी करने आए और इस बार आसिफ अली (09) को आउट कर दिया। तो 18वें ओवर की पहली गेंद पर अर्शदीप सिंह ने मोहम्मद नवाज (01) को पवेलियन भेजा। इस बीच, 19वां ओवर डाल रहे भुवनेश्वर ने शादाब खान (10) और नसीम शाह (00) को लगातार दो गेंदों में आउट करके पाकिस्तानी टीम की बड़ा स्कोर खड़ा करने की आशा को तोड़ दिया।