Friday , July 1 2022

अब BSNL से हाईटेक होगी अटल टनल, शानदार कनेक्टिविटी से होगी लैस

टेक डेस्क: हिमाचल प्रदेश के स्ट्रैटजिक लोकेशन पर बनाई गई अटल टनल को लेकर चीन पहले ही बौखलाया हुआ है। वही अब भारत की ओर से अटल टनल में हाईटेक 4G कनेक्टिविटी देने का ऐलान किया गया है। भारत का यह कदम चीन की बौखलाहट को बढ़ाने के लिए काफी है। बता दें कि अटल टनल दुनिया की सबसे लंबी हाईवे सुरंग है, जिसका उद्धाटन हाल ही में पीएम मोदी ने किया है। इस टनल से मनाली से लेह के बीच की दूरी 46 किमी कम हो जाएगी, जो युद्ध के दौरान काफी मददगार साबित हो सकती है। इस टनल को लेकर चीन बौखलाया हुआ है चीन ने इस टनल के बारे में कहा था कि इस टनल से भारत को फायदा नही होगा।

टनल में मिलेगी 4G कनेक्टिविटी

अटल टनल में 4G कनेक्टिविटी उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी BSNL को दिया गया है। हिमाचल प्रदेश टेलिकॉम कंपनी ने टनल में ग्राहकों को 4G कनेक्टिवटी देने के लिए तीन 4G बेस ट्रांसरिसीवर स्टेशन इंस्टॉल किये गये हैं। टनल के उद्धाटन से पहले BSNL हिमाचल प्रदेश की तरफ से ट्वीटर पोस्ट में कहा गया था कि टेलिकॉम कंपनी दिन-रात जीरो डिग्री तापमान पर तीन 4G BTSs को टनल में इंस्टॉल किया गया है। BSNL की तरफ से इसे 13,051 फीट पर उपलब्ध कराया गया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने किया था अटल टनल का उद्धाटन

BSNL की तरफ से इस हिमाचल के अटल टनल इलाके में 4G अपग्रेड प्रोग्राम शुरू किया गया है। ऐसे में 2G और 3G कनेक्टिविटी वाले BSNL यूजर्स अपना सिम 4G में कन्वर्ट कर सकेंगे। इसके लिए कोई चार्ज नही देना होगा। हिमाचल के रहने वाले लोग इस स्कीम का लाभ उठा पाएंगे। हिमाचल के अलावा BSNL की तरफ से केरल, आंध्र प्रदेश, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडू, कर्नाटक, महाराष्ट्र, गुजरात और कोलकाता में 3G स्पेक्ट्रम को 4G में कन्वर्ट किया जा रहा है। बता दें कि पीएम मोदी नरेंद्र मोदी ने 3 अक्टूबर को अटल टनल का उद्धाटन किया गया है। इस टनल की लंबाई 9.02 किमी है। इसे रोहतांग पास के तहत बनाया गया है। यह हिमाचल प्रदेश के लेह-मनाली हाईवे पर स्थित है।

Leave a Reply