Thursday , July 7 2022

आजमगढ़ : बुआ-भतीजे ने मंदिर में की शादी

आजमगढ़। किसने ने क्या खुब कहा कि इश्क और जंग में सब जायज़ है, फिर चाहे वो दुनिया हो या समाज। रिश्ते हो या नाते, दरअसलस एक ऐसी घाटना आई है
आजमगढ़ से जहां रिश्ते के बुआ भतीजे ने मंदिर में की शादी कर ली, दोनों परिवारों के बीच पंचायत कर निर्णय लिया गया । बताया जा रहा है कि प्रेमी कानपुर का और प्रेमिका रौनापार थाना क्षेत्र की,और दोनों रिश्ते में बुआ भतीजा होने के बावजूद जब दोनों शादी पर अड़ गए। तो मजबूर होकर परिजनों ने दोनों की शादी मंदिर में करा दी।

जानकारी के अनुसार काफी दिनों से प्रेमी और प्रेमिका में लगातार मोबाइल से बात होती रहती थी। बाद में प्रेमी प्रेमिका के घर पहुंचा और लेकर फरार हो गया। इसके बाद प्रेमिका के परिजन खोजते हुए प्रेमी के घर रौनापार पहुंचे, जहां पर प्रेमिका रह रही थी। इसके बाद प्रेमिका के परिजन रौनापार थाने पर जाकर प्रेमी के खिलाफ तहरीर दिया, तहरीर मिलने पर रौनापार पुलिस दोनों प्रेमी प्रेमिका को रौनापार थाने ले आई। इस दौरान दोनों के परिजन भी थाने पर पहुंच गए, इसके बाद दोनों परिवारों में दो रोज तक लगातार पंचायत चलती रही।

 

अंत में दोनों परिजनों ने मिलकर जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के कालिका मंदिर में पुलिस की मौजूदगी में शादी करा दी। कानपुर की रहने वाली एक युवती का रिश्ते में भतीजा लगने वाले युवक से काफी दिनों से प्रेम संबंध चल रहा था। प्रेमी रौनापार थाना क्षेत्र का रहने वाला है, दोनों में अक्सर ही फोन पर बातचीत हुआ करते थे। कुछ रोज पूर्व प्रेमी युवती के घर कानपुर पहुंचा और उसे लेकर फरार हो गया।

 दोनों परिवारों के बीच पंचायत कर लिया गया निर्णय

प्रेमिका के गायब होने पर परिजनों ने अपने स्तर से उसकी खोजबीन की,तो पता चला कि वह रौनापार थाना क्षेत्र में है, जिस घर में वह है, वह भी युवती के परिजनों के रिश्ते में ही हैं, इस सूचना पर युवती की मां, दादी व भाई दो दिन पूर्व रौनापार थाने पर पहुंचे, और पूरी बात बताई, इसके बाद पुलिस ने युवती को थाने पर बुलाया तो वह प्रेमी के साथ ही रहने की बात पर अड़ गई। इसके बाद युवती के दबाव में आकर दोनों परिवार शादी के लिए राजी हो गए, और कालिका मंदिर में शादी करा दी गई।

 

 

 

Leave a Reply