Friday , August 12 2022

आजमगढ़ :WhatsAppchat वायरल होते ही SP ने SO को किया निलंबित

आजमगढ़। दो दिन पूर्व चाकूबाजी में हुए दोहरे हत्या कांड में पुलिस और अपराधियों के गठजोड़ का नया खुलासा हुआ है. आरोपी आरिफ उर्फ मुन्ना और निजामाबाद थाने के इंस्पेक्टर का वाट्सएप चैट भी वायरल हुआ है। जिसके बाद से एसपी सुधीन कुमार सिंह ने एसओ को निलंबित कर दिया। इसके साथ ही मामले की जांच एसपी सिटी पंकज पांडेय को सौंपी गई है। जांच रिपोर्ट आने के बाद मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी।

प्रारंभिक जांच रिपोर्ट मिलने के बाद एसओ निजामाबाद अनवर अली खां को एसपी सुधीर कुमार सिंह ने लाइन हाजिर किया था। इसके बाद एसओ को निलंबित कर दिया है। साथ ही जेल में बंद आरिफ उर्फ मुन्ना के साथ एसओ अनवर अली खान की एक और व्हाट्सएप चैट वायरल होने पर उसको भी जांच प्रक्रिया में शामिल करने की बात कही गई है। प्रकरण की जांच में कई अन्य गंभीर खुलासे होने की बात कही जा रही है।

जानकारी के अनुसार, सोशल नेटवर्किंग साइट व्हाट्सएप पर हुई चैट में एसओ निजामाबाद अनवर अली खां कुछ दिनों पहले ही रेलवे के फर्जी टिकट बनाने के मामले में जेल भेजे गए एवं दोहरे हत्याकांड के आरोपी आरिफ उर्फ मुन्ना के साथ बातचीत करते हुए दिखाई दिए थे। इसमें पैसे के लेनदेन के साथ ही तमाम तरह की बातें हुई थीं।

सोशल नेटवर्किंग साइट व्हाट्सएप पर हुई चैट

एसओ और हत्यारोपी के बीच जिस लिहाज से बातचीत हुई थी, उससे लगता है कि वह उनका काफी करीबी है। इस चैट में सोमवार को चकिया हुसैनाबाद गांव में हुई चाकूबाजी की घटना में मृत असमर का भी जिक्र था। इसमें उसका नाम, मोबाइल नंबर व गाड़ी का नंबर आदि भी आरिफ ने एसओ निजामाबाद को भेजा था।

पैसे के लेनदेन की भी बात थी। किसी ने इस चैट की वीडियो बनाकर वायरल कर दी थी। अमर उजाला ने इस चैट के वायरल होने की खबर को प्रमुखता के साथ प्रकाशित किया था। इस पर एसपी सुधीर कुमार ने कड़ा संज्ञान लिया। उन्होंने एसओ निजामाबाद अनवर अली खां को लाइन हाजिर करने के बाद निलंबित कर दिया है। साथ ही मामले की जांच एसपी सिटी को सौंपी है। उन्होंने कहा कि ये चैटिंग दो माह पुरानी बताई जा रही है, लेकिन मामला गंभीर है। जांच रिपोर्ट मिलने का बाद मामले में कार्रवाई की जाएगी।

 

 

 15 दिसंबर को विदा हो जाएगा Yahoo, जानिए इसके पीछे की वजह

Leave a Reply