Tuesday , July 5 2022

Gorakhpur: इस वजह से प्रेमी युगल की शादी का गवाह बने पुलिस अधिकारी, जानिए वजह

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश की छोटी राजधानी के नाम से प्रसिद्ध गोरखपुर के देवरिया जनपद के रुद्रपुर कोतवाली में रविवार की शाम एक अजीबो-गरीब मामला देखने को मिला। यहां घर से भागे प्रेमी युगल ने पुलिस के सामने कोतवाली परिसर स्थित मंदिर में सात फेरे लिया। इस शादी के गवाह युगल के परिवार के सदस्यों के साथ ही पुलिस अधिकारी भी बने। सात फेरे लेने के बाद दुल्हन की कोतवाली से ही अपने ससुराल के लिए विदा हो गई।

गांव की युवती से ही हो गया था प्रेम

देवरिया जनपद के रुद्रपुर कोतवाली के जंगल अकटहिया निवासी एक युवक गांव की एक युवती से चार साल से प्रेम करता थे, दोनों अपनी अलग जिंदगी जीने की ठान ली, लेकिन परिवार के सदस्य इसको लेकर तैयार नहीं थे, फिर क्या था, चार दिन पूर्व दोनों घर छोड़कर फरार हो गए। युवती के परिवार के सदस्य कोतवाली पहुंच तहरीर दे दिए। जिसके बाद कोतवाली पुलिस युवक पर दबाव बनाना शुरू की। दोनों अपने को बालिग होने का दावा करने लगे।

पुलिस ने दोनो को बुलवा कर करा दी शादी

मामले में तहरीर मिलने के बाद इंस्पेक्टर अरुण कुमार मौर्या दोनों की शादी करा देने की बात कहते हुए किसी तरह बुला लिए। कोतवाली पहुंचते ही दोनों एक-दूसरे के साथ रहने व शादी करने की जिद करने लगे। दोनों की जिद देखकर पुलिस ने दोनों के परिवार के सदस्यों को बुलाया। फिर कोतवाली में ही पंचायत शुरू हुई। दोनों के परिवार के सदस्य पुलिस की पहल पर शादी करने को तैयार हो गए। फिर चंद मिनट में पंडित बुलाकर दोनों को मंदिर में अग्नि को साक्षी मानते हुए सात फेरे दिला दिया गया। प्रभारी निरीक्षक अरुण मौर्या ने कहा कि दोनों बालिग हैं, दोनों ने मंदिर में शादी कर ली है। आज न्यायालय में शादी कर लेंगे। युवती अपने ससुराल चली गई है।

Leave a Reply