Wednesday , May 25 2022

बिहार चुनाव: वाल्मीकि नगर लोकसभा सीट से उप-चुनाव लड़ सकतें है पप्पू यादव

पटना: बिहार के वाल्मीकि नगर लोकसभा सीट से जेडीयू प्रत्याशी रहे प्रसाद महतो की अकस्मात् हुए निधन के बाद वाल्मीकि नगर सीट पर होने वाले उप चुनाव के लेकर राजनीतिक गलियारों में चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है। इसी बीच जन अधिकार पार्टी  (जाप) के अध्यक्ष राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव इस सीट से चुनाव लड़ सकते हैं। ऐसा माना जा रहा है कि 15 सितंबर के बाद पप्पू यादव इसकी घोषणा कर सकते हैं। इस दौरान पप्पू यादव बिहार विधानसभा चुनाव में दलित मुख्यमंत्री की घोषणा कर सकते हैं।

वाल्मीकि नगर लोकसभा सीट 2002 के परिसीमन के बाद 2008 में पहली बार अस्तित्व में आई थी। इससे पहले यह सीट बगहा के नाम से जाना जाता था। परिसीमन के बाद जब यहां पर साल 2009 में पहली बार चुनाव हुए तो JDU के बैधनाथ प्रसाद ने जीत हासिल की थी।  संसदीय क्षेत्र के तहत इसमें विधानसभा की छह सीटें आती हैं, जिनमें वाल्मीकि नगर, रामनगर, नरकटियागंज, बगहा, लौरिया व सिकता शामिल हैं।

मांझी ने टाली पप्पू यादव के साथ बैठक

हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (एचएएम) के अध्यक्ष और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री रहे जीतन राम मांझी ने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) में वापसी के स्पष्ट संकेत दिए हैं। जीतन राम मांझी द्वारा बुलायी गयी प्रस्तावित तीसरे मोर्चे की बैठक सोमवार को स्थगित कर दी। मांझी ने यह बैठक बिहार चुनाव पर चर्चा के लिए बुलाई थी।

बिहार चुनाव: वाल्मीकि नगर लोकसभा सीट से उप चुनाव लड़ सकतें है पप्पू यादव

मांझी ने आगामी बिहार विधानसभा चुनाव के लिए रणनीति पर चर्चा करने के लिए पूर्व सांसद पप्पू यादव की जन अधिकार पार्टी समेत गैर राजग और गैर महागठबंधन दलों को निमंत्रित किया था। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार राजद के महागठबंधन से अलग होने के बाद मांझी जनता दल यूनाईटेड (जदयू), भाजपा और लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के साथ जाने पर निर्णय लेने से पहले विकल्पों का मूल्यांकन कर रहे हैं।

बता दें कि असदुद्दीन ओवैसी की नेतृत्व वाली एआईएमआईएम के साथ भी पहले बातचीत हुई थी। वर्ष 2019 के किशनगंज उपचुनाव को जीतने के बाद एआईएमआईएम सीमांचल क्षेत्र में बड़ी संख्या में उम्मीदवार उताने की तैयारी कर रही है।

नीतीश से भी मिले थे मांझी

लोकसभा चुनावों पर इससे पहले मांझी बीते गुरुवार को सीएम नीतीश से भी मिले थे। ऐसा माना जा रहा है कि दोनों नेताओं के बीच सीटों के बंटवारे पर चर्चा हुई। इस मुलाकात पर बिहार भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवालन ने शनिवार को कहा कि जो भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में विश्वास प्रकट करता है, उसका गठबंधन में स्वागत है।

Leave a Reply