Sunday , June 26 2022
मंकीपॉक्स के मामलों को लेकर चिंतित होने की जरूरत : बाइडन
मंकीपॉक्स के मामलों को लेकर चिंतित होने की जरूरत : बाइडन

मंकीपॉक्स के मामलों को लेकर चिंतित होने की जरूरत : बाइडन

प्योंगतेक (दक्षिण कोरिया)। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने रविवार को कहा कि यूरोप तथा अमेरिका में हाल में सामने आए मंकीपॉक्स के मामलों को लेकर चिंतित होने की आवश्यकता है। इस बीमारी पर पहली बार सार्वजनिक रूप से टिप्पणी करते हुए बाइडन ने कहा, ‘‘चिंता की बात यह है कि अगर यह संक्रमण फैला तो इसके परिणाम भुगतने होंगे।
बाइडन दक्षिण कोरिया के ओसान हवाई अड्डे पर पत्रकारों द्वारा इस बीमारी के बारे में पूछे गए सवाल का जवाब दे रहे थे। राष्ट्रपति के रूप में एशिया की अपनी पहली यात्रा के क्रम में बाइडन ने जापान रवाना होने से पहले सैनिकों से मुलाकात की। बाइडन ने कहा, अभी मुझे संक्रमण के प्रसार के बारे में नहीं बताया गया है लेकिन इसके बारे में हर किसी को चिंतित होना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह पता लगाने के लिए काम चल रहा है कि कौन-सा टीका प्रभावी हो सकता है।
मंकीपॉक्स के मामले अफ्रीका के बाहर विरले ही देखने को मिलते हैं लेकिन शुक्रवार तक दुनियाभर में इसके 80 मामलों की पुष्टि हुई। इनमें से कम से कम दो मामले अमेरिका में सामने आए। हालांकि, यह बीमारी चेचक जैसी है लेकिन इसके लक्षण हल्के होते हैं। मरीज आम तौर पर अस्पताल में भर्ती हुए बिना दो से चार हफ्तों में ठीक हो जाते हैं लेकिन कभी-कभी यह बीमारी जानलेवा भी हो जाती है।