Thursday , July 7 2022

भाजपा नेता गिरिराज ने फोड़ा लालू के घर में बम, कही ये बात 

पटना: बिहार में चल रहे चुनावी घमसान में गोपालगंज सीट का बड़ा महत्व है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि गोपालगंज राजद सुप्रीमो बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव का गृह जिला है। वे इस समय चारा घोटाले के एक मामले में रांची में सजा काट रहे हैं। इसी कारण लालू प्रसाद यादव चुनावी सभाओं में नज़र नही आ रहें हैं। लेकिन उनकी नजर पूरे बिहार के साथ ही अपने गृह जिला की चुनावी राजनीति पर है। यहां बिहार विधानसभा चुनाव-2020 के दूसरे चरण में 3 नवंबर को मतदान है। लालू के गृह जिले में विधानसभा की छह सीटें हैं-बैंकुंठपुर, गोपालगंज, कुचायकोट, हथुआ, बरौली और भोरे। राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) के तमाम नेता लालू के गृह जिल में भाजपा-जदयू प्रत्याशी के प्रत्याशियों के पक्ष में जोर लगा रहे हैं। इस कड़ी में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने गोपालगंज पहुंचकर राजनीतिक माहौल को गरमा दिया है।

केवल एनडीए ने किया देश का विकास

बिहार भाजपा के फायरब्रांड नेता केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बीते गुरुवार को चुनाव प्रचार के दौरान लालू के गृह जिले गोपालगंज में चढ़ाई की। उन्होंने अतीत के लालू-राबड़ी सरकार के कार्यकाल को याद दिलाते हुए बयानों का बम फोड़ा। संवाददाता सम्मेलन कर कहा कि बिहार में जो महागठबंधन बना है, वह केवल बम व बारूद की बात करता है। बिहार की जनता को यह यह करना है कि उसे बम फोड़ने वाली महागठबंधन की सरकार चाहिए कि नारियल फोड़ने वाली एनडीए की सरकार। बिहार व देश में एनडीए ने केवल विकास का कार्य किया है।

लालू-राबड़ी की तस्वीर को लेकर कसा तंज

उन्होंने आगे कहा कि तेजस्वी यादव को राजनीति विरासत में मिली है। उन्हें जो विरासत में राजनीति मिली है और राजद का जो विचारधारा है उसे तेजस्वी भी अच्छी तरह जानते हैं। यही कारण है कि उन्होंने पोस्टर से अपने माता-पिता का फोटो हटा दिया। इससे जनता का मूड बदलने वाला नहीं है। जनता जानती है कि लालू यादव को पोस्टर से हटाने से नहीं होगा। क्योंकि सरकार बनी तो फिर से बिहार में जो 15 साल पूर्व होता था, वह फिर से शुरू हो जाएगा। बिहार में जंगल राज की वापसी होगी।

Leave a Reply