Monday , September 26 2022

मुसलमानों को निशाना बना रही भाजपा

एआईएमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने एक बार फिर से भाजपा पर जबरदस्त तरीके से निशाना साधा है। दरअसल, हैदराबाद के सरूरनगर में हुई ऑनर किलिंग को लेकर असदुद्दीन ओवैसी ने चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि हम इस घटना को कंडेम करते हैं। लेकिन जो कुछ भी जहांगीरपुरी, सेंडवा, खरगोन में हुआ, उस पर मोदी जी कुछ बोलेंगे? उन्होंने दावा किया कि मध्यप्रदेश के डिंडोरी में आसिफ ने साक्षी से शादी की तो उसका घर तोड़ दिया गया। अखलाक को मारने वालों को हार पहनाया जाता है। लेकिन इन सब घटनाओं पर पीएम नहीं बोलते हैं। राजनीतिक दलों पर निशाना साधते हुए ओवैसी ने कहा कि भारत में अब मुस्लिमों को अपनी पॉलीटिकल लीडरशिप बनानी चाहिए। 

ओवैसी ने कहा कि जब तक हम अपना नेता नहीं चुनेंगे, तब तक नफरत का तूफान नहीं रुकेगा। इसके साथ ही ओवैसी ने दावा किया कि वह हमारे अधिकारों को छीनना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि मौजूदा दौर में हुकूमत को बदलना आसान नहीं है लेकिन मुसलमानों को अपने नुमाइंदे आगे बढ़ाने होंगे। ओवैसी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में लगभग 100 मदरसों पर बुलडोजर चल गया, लेकिन समाजवादी पार्टी का एक विधायक भी बोलने नहीं गया। जहांगीरपुरी में बुलडोजर चला, मुझे जाने का मौका भी मिला, मस्जिद के सामने की दीवार तोड़ दी गई और इस पर कोई कुछ नहीं बोल रहा है। उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आपने जिन पर भरोसा किया, वह नाकाम साबित हो रहे हैं। भाजपा मुसलमान के खिलाफ एलान-ए-जंग कर चुकी है।

ऑनर किलिंग पर बयान

सरूरनगर में हुई (ऑनर किलिंग) घटना की निंदा करते हुए ओवैसी ने कहा कि महिला ने स्वेच्छा से शादी करने का फैसला किया। उसके भाई को उसके पति को मारने का कोई अधिकार नहीं है। यह संविधान के अनुसार एक आपराधिक कृत्य है और इस्लाम के अनुसार सबसे खराब अपराध है।