Saturday , October 1 2022

BMC ने भेजा राणा दंपत्ति को नोटिस

उद्धव ठाकरे के निजी आवास मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ करने की चुनौती देने वाली अमरावती सांसद नवनीत राणा और उनके पति व विधायक रवि राणा की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही है। जमानत पर बाहर होने के बाद मीडियो को दिए बयान को लेकर मुंबई सेशन कोर्ट की तरफ से राणा को कारण बताओ नोटिस जारी कर उनसे पूछा है कि उनकी जमानत क्यों नहीं रद्द की जानी चाहिए। वहीं अब बीएमसी की तरफ से भी राणा दंपत्ति के आवास को लेकर फुल एक्शन की तैयारी है। 

बीएमसी ने अमरावती के सांसद नवनीत राणा और विधायक रवि राणा को नगर निगम अधिनियम की धारा 351(1ए) के तहत कारण बताओ नोटिस जारी किया है। बीएमसी ने अमरावती के सांसद नवनीत राणा और विधायक रवि राणा से 7 दिनों के भीतर जवाब दाखिल करने को कहा। यदि वे पर्याप्त कारण का वर्णन करने में विफल रहते हैं, तो बीएमसी उनकी अनुमति के बिना उल्लिखित निर्माण के खिलाफ पहल करेगी और उक्त अधिनियम की धारा 475 ए के तहत मुकदमा भी चलाया जाएगा।

गौरतलब है कि मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) की टीम राणा दंपत्ति के मुंबई के खार इलाके के निवास में जाकर निरीक्षण किया। प्राप्त जानकारी के अनुसार बीएमसी ने ये पाया है कि राणा दंपत्ति के घर में अवैध निर्माण किया गया है। यानी अधिकृत नक्शे से हटकर निर्माण किया गया है।