Tuesday , September 27 2022
जयपुर में तीन सगी बहनों सहित पांच के शव मिले
जयपुर में तीन सगी बहनों सहित पांच के शव मिले

जयपुर में तीन सगी बहनों सहित पांच के शव मिले

जयपुर। राजस्थान के जयपुर में एक साथ पांच शव मिलने से सनसनी फैल गई है। पुलिस ने बताया कि सभी शवों की पहचान हो गई है और घरवालों को सूचना दी गई है। दरअसल, शनिवार सुबह जयपुर के दूदू में तीन महिलाओं व दो बच्चों के शव मिलने की जानकारी पुलिस को मिली थी। गांववालों ने बताया कि कुएं में मिले सभी शवों का संबंध दूदू से ही है। इनमें तीन सगी बहनें और उनके दो बच्चे हैं। गांववालों की मदद से शवों को बाहर निकाला गया। तीनों बहनें दूदू कस्बे के मीणा मोहल्ले की रहने वाली थीं। सुबह दूदू से 2 किलोमीटर दूर नरैना रोड पर कुएं में शव मिले हैं। लोगों का कहना है कि तीनों बहनों ने बच्चों को मारकर खुद सुसाइड कर लिया। उन्होंने ऐसे क्यों किया इसकी जानकारी किसी को नहीं है। प्रारंभिक जांच में पुलिस इसे सुसाइड केस मान रही है। दूदू पुलिस ने बताया कि दो दिन पहले दोपहर में काली देवी (27), ममता मीणा (23), कमलेश मीणा (20) घर से गायब हो गई थीं। उनके साथ चार साल का बेटा हर्षित और 20 दिन का दूसरा बच्चा भी गायब था। ये सभी 25 मई को बाजार जाने का कहकर घर से निकली थीं। शाम तक सब नहीं लौटे तो परिवार ने तलाश शुरू कर दी, लेकिन कोई जानकारी नहीं मिल सकी।
इनके गायब होने के बाद से पुलिस और परिवार के लोग इन्हे तलाश रहे थे। पूरे शहर में फोटो भी बांटे गए। तलाश चल ही रही थी कि शनिवार सुबह पाचों के शव मिले। शव मिलने के बाद घटनास्थल को सील कर दिया गया है। गांव और परिवार के लोगों से पूछताछ की जा रही है। जानकारी के अनुसार इन बहनों से एक कमलेश नौ माह की गर्भवती थी। पुलिस ने बताया कि मरने वाली तीनों सगी बहनों की एक साथ दूदू के तीन भाइयों से शादी हुई थी। बड़ी बहन काली देवी का चार साल का लड़का हर्षित है। महिलाओं के पति खेती और JCB का काम करते हैं।