Sunday , June 26 2022
बसपा नेता के हत्यारोपी की संपत्ति पर चला बुलडोजर
बसपा नेता के हत्यारोपी की संपत्ति पर चला बुलडोजर

बसपा नेता के हत्यारोपी की संपत्ति पर चला बुलडोजर

कानपुर। शनिवार को गैंगस्टर मोहम्मद आसिम उर्फ पप्पू स्मार्ट के अवैध साम्राज्य पर बुलडोजर चलाया गया। जाजमऊ पुराना गल्ला मंडी में अवैध तरीके से कब्जा कर डर के दम पर पूरी मार्केट बनाई गई थी। नगर निगम के प्रवर्तन दस्ते और भारी पुलिस फोर्स की मौजूदगी में केडीए चौराहा के पास मकान की बाउंड्री से लगी 7 अवैध दुकानों को तोड़ने की कार्रवाई शुरू की गई है। भारी फोर्स तैनात की गई है। पुलिस आयुक्त विजय सिंह मीणा ने पुलिस अधिकारियों को हत्याकांड में शामिल सभी 15 अभियुक्तों की अवैध संपत्तियों की जांच करने के आदेश बीती 23 अप्रैल को दिए थे। बता दें कि जून-2020 में बसपा नेता पिंटू सेंगर की दिनदहाड़े घर के बाहर हत्या कर दी गई थी। मामले में पुलिस ने 15 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। जिसमें तौसीफ उर्फ काकू की जेल में हृदय गति रुकने से मृत्यु हो चुकी है। कई मुख्य आरोपित जमानत पर बाहर हैं, हालांकि मुख्य आरोपित पप्पू स्मार्ट और महफूज अख्तर अभी जेल में है। पुलिस आयुक्त ने पप्पू स्मार्ट के अलावा साउद अख्तर, महफूज अख्तर, मनोज गुप्ता, वीरेंद्र पाल और उन्नाव पुलिस में तैनात रहे सिपाही श्याम सुशील मिश्रा की संपत्तियों को भी चिन्हित करने के आदेश दिए थे। पप्पू स्मार्ट और अख्तर भाइयों की संपत्ति पुलिस ने पहले ही कुर्क कर रखी है। प्रवर्तन दस्ते के प्रभारी रि. कर्नल आलोक नारायण ने बताया कि आज दुकानों को तोड़ने की कार्रवाई की जा रही है।
पुलिस सूत्रों के मुताबिक पप्पू स्मार्ट का हरजिंदर नगर चौराहे पर एक मकान है, जो कि बिना नक्शे के बनाया गया है और आवासीय होने के बावजूद उसे व्यवसायिक कार्यों में प्रयोग किया जा रहा है। इसके अलावा पप्पू स्मार्ट व उसके परिवार के लोगों ने संरक्षित राजा ययाति के किले पर भी कब्जा कर रखा है।