Wednesday , September 28 2022
फ्रेंच ओपन हारीं चीनी खिलाड़ी, बोलीं- पीरियड्स के कारण मिली मात, काश मैं मर्द होती
फ्रेंच ओपन हारीं चीनी खिलाड़ी, बोलीं- पीरियड्स के कारण मिली मात, काश मैं मर्द होती

फ्रेंच ओपन हारीं चीनी खिलाड़ी, बोलीं- पीरियड्स के कारण मिली मात, काश मैं मर्द होती

पेरिस। पहली बार फ्रेंच ओपन खेल रही चीन की 19 साल की झेंग किनवेन चौथे दौर में वर्ल्ड नंबर वन इगा स्विटेक से हार गईं। उनको वर्ल्ड नंबर वन को न हरा पाने का बहुत मलाल है। मैच के बाद उन्होंने कहा- “काश मैं लड़का होती तो मुझे पीरियड्स का सामना नहीं करना पड़ता।” दरअसल, इस मैच में का पहला सेट झेंग जीत गई थीं, लेकिन अगले दो सेटों में उन्हें हार का सामना कराना पड़ा। इससे वर्ल्ड नंबर वन प्लेयर को हराने का उनका सपना पूरा नहीं हो सका।
झेंग ने पहला सेट टाईब्रेकर में 7-6 से इगा स्विटेक से जीत लिया था। उसके बाद स्विटेक ने लगातार दो सेटों 6-0, 6-2 से हराकर उन्हें टूर्नामेंट से बाहर का रास्ता दिखा दिया था। झेंग को मैच के दौरान मेडिकल टाइम भी लेना पड़ा। मैच के बाद झेंग ने अपनी हार की वजह बताते हुए कहा, ‘चोट की वजह से मैं चिंतित नहीं थी। मैं पीरियड्स की वजह से ज्यादा परेशान थी। मैच से पहले ही यह प्रॉब्लम शुरू हुई थी। इसकी वजह से मैच के बीच में ही मुझे पेट में दर्द हो गया था। जिसे सहन करन पाना मेरे लिए मुश्किल था। पीरियड्स का पहला दिन था। यह मेरे लिए हमेशा कठिन रहा है। पहले दिन मुझे हमेशा इतना दर्द होता है, पर मुझे खेलना ही पड़ता है। मैं नेचर के खिलाफ नहीं जा सकती हूं। काश मैं एक पुरुष होती, तो मुझे इसे झेलना नहीं पड़ता। झेंग ने दूसरे दौर में पूर्व वर्ल्ड नंबर वन और 2018 की चैंपियन सिमोना हालेप को 6-2, 6-2, 6-1 से हराते हुए बाहर का रास्ता दिखाया था। स्विटेक फ्रेंच ओपन में लगातार तीसरी बार क्वार्टर फाइनल में पहुंची हैं। यह उनकी लगातार 32वीं जीत भी है। वे 23 अप्रैल के बाद पहली बार किसी सेट में हारीं हैं। झेंग से पहला सेट गंवाने से पहले उन्हें स्टुटगार्ट ओपन टेनिस के सेमीफाइनल में ल्यूडमिला सैमसोनोवा से सेट गंवाना पड़ा था। लगातार तीसरी बार क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाली इगा स्विटेक ने 19 साल की चीनी खिलाड़ी झेंग की तारीफ की। उन्होंने कहा- ‘मैं उसके शॉट्स से हैरान थी। उसने काफी अच्छे शॉट्स खेले, उसके लिए बहुत-बहुत बधाई। मैं पहले सेट में हार से निराश थी, उसके बाद वापसी कर बढ़त बनाने के बाद मैच जीतने में सफल होने पर खुश हूं।’