Monday , August 8 2022

अब किसान आन्दोलन के समर्थन में आए केरल के CM पिनराई विजयन

तिरुवनंतपुरम: केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन दिल्ली के बॉर्डर पर कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों के समर्थन में आ गए हैं. जी हाँ पिनराई विजयन ने केंद्र सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि उद्योगपतियों के हितों का ध्यान रखा जा रहा है, लेकिन किसानों का नहीं. विजयन ने आगे ये भी कहा कि केंद्र सरकार को तीनों कृषि कानून वापस लेने चाहिए.

दरअसल, पिनराई विजयन ने राज्यपाल आरिफ मुहम्मद खान से राज्य विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की इजाजत देने मांगी थी, जिसे उन्होंने खारिज कर दिया था. पिनराई तीनों कृषि कानूनों पर विधानसभा में इस पर चर्चा करना चाहते थे. बुधवार को विजयन ने कहा कि किसान देश के अन्नदाता हैं, इसलिए उनकी मांग को राष्ट्र के हित में देखा जाना चाहिए. शहीद स्मारक पर यहां स्थित किसानों के प्रति एकजुटता दिखाने के लिए वामदलों के समर्थन से आयोजित एक बैठक का उद्घाटन करते हुए उन्होंने केंद्र सरकार पर रय्यत के खिलाफ लगातार दमनकारी कदम उठाने का भी आरोप लगाया.

केरल मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार पर लगाए गंभीर आरोप

मुख्यमंत्री पिनराई ने कहा, “केंद्र की बीजेपी सरकार किसानों के हितों का ध्यान नहीं रख रही है. वह उद्योगपतियों के हितों को सबसे ज्यादा महत्व दे रही है. केंद्र को किसानों की मांग स्वीकार कर लेनी चाहिए.” उन्होंने कहा कि अगर देश में खाने की चीजों की कमी होती है तो इससे केरल समेत सभी राज्य प्रभावित होंगे इसलिए किसान आंदोलन को किसी एक राज्य तक सीमित कर के नहीं देखना चाहिए.

Leave a Reply