सीएम योगी ने 31 हजार से अधिक एमएसएमई इकाइयों को बांटा 2505 करोड़ रुपए का लोन

सरकार ने पूरी पारदर्शिता से युवाओं को रोजगार से जोड़ा

0 7

लखनऊ। उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को एमएसएमई इकाइयों को 2,505.58 करोड़ रुपए का का ऋण वितरण करते हुए सीएफसी  पोर्टल का शुभारंभ और 9 सीएफसी का शिलान्यास किया। इस मौके पर सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश की 31,000 से अधिक यूनिट आज 2,500 करोड़ रुपए  से अधिक के ऋण वितरण कार्यक्रम से जोड़ा गया है। हमारा प्रयास होना चाहिए कि 75 जनपद हैं तो कम से कम 75 लोन मेले अगले एक महीने में प्रदेश में आयोजित हों। उन्होंने कहा कि रोजगार में आत्मनिर्भर बनाना मकसद है।

सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश में एमएसएमई यूनिट्स ने काफी अच्छा काम किया है। उत्तर प्रदेश, देश में सबसे बड़ी आबादी का राज्य है व सर्वाधिक युवा हमारे पास हैं, लेकिन यहां बेरोजगारी की दर सबसे कम है। इसका कारण है कि सरकार ने पूरी पारदर्शिता से युवाओं को रोजगार से जोड़ा है। जैसे प्रदेश स्तर पर ऋण वितरण के कार्यक्रम को आगे बढ़ाया गया है, उसी तरह जनपद स्तर पर भी इस प्रकार के लोन मेलों के कार्यक्रम होने चाहिए। सांसदों, विधायकों, मंत्रियों को भी इस कार्यक्रम के साथ जोड़ा जाए। हमारा प्रयास होना चाहिए कि सभी 75 जनपदों में अगले महीने लोन मेले आयोजित हों।

चार लाख लोगों को रोजगार दिया गया :
सीएम योगी ने कहा कि आज जो भी योजनायें एक साथ लागू हो रहीं हैं वो आत्मनिर्भर भारत के सपने को ही साकार कर रहा है। अब सिर्फ युवा ही रोजगार नही करेगा, बल्कि हमारी आधी आबादी भी उसमे बढ़चढ़ कर हिस्सा ले रही है। लखनऊ में चिकन कारीगरी को हमारी माताएं बहने ही इसमें काम कर रही हैं। आज हमारा प्रदेश अब स्वावलंबन की ओर भी बढ़ रहा है। एमएसएमई ने बेहतर कार्य किया है। सरकार ने 4 लाख नौकरियां दी हैं। एमएसएमई ने डेढ़ करोड़ से ज्यादा रोजगार दिए हैं।

75 जिलों में लोन मेला आयोजित किया जाए :
सीएम योगी ने कहा कि इसी तरह हमें जीवन और आजीविका को बचाने के लिए कार्य करना है। इसी तरह पिछली कोरोना लहर ने 40 लाख माइग्रेंट आए थे, हमने उन्हें यूपी में ही काम दिया और एमएसएमई यूनिट ने उन्हें सहयोग दिया। उसी का परिणाम है कि आज प्रदेश का युवा निरन्तर आगे बढ़ रहा है। सीएम ने कहा कि ऋण प्रदान करने की हमारी योजना है। उसी को आगे बढ़ाने के काम होंगे। पूंजी से ही पूंजी बढ़ेगी, हमारा प्रयास है कि अगले एक महीने में 75 जनपदों में हर जिले में लोन मेला आयोजित किया जाए, तभी ये कार्य पूर्ण होगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.