Thursday , July 7 2022

उत्तराखंड: नाबालिग से दुष्कर्म के दोषी को 20 साल की सुनाई सजा

नाबालिग से दुष्कर्म के मामले में दोषी को विशेष न्यायाधीश श्रीकांत पांडे की अदालत ने 20 साल के कठोर कारावास की सजा सुनाई है। साथ ही 10 हजार के अर्थदंड से भी दंडित किया है। अर्थदंड ने देने पर दोषी को छह माह का अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी।

अभियोजन पक्ष के अनुसार पीड़िता के पिता ने चार जनवरी 2022 को राजस्व उपनिरीक्षक क्षेत्र में अपनी नाबालिग पुत्री की गुमशुदगी को लेकर प्रार्थना पत्र दिया। बताया कि दो जनवरी को वादी की पुत्री घर से रुद्रप्रयाग बाजार किताब कापी खरीदने को कहकर निकली थी और वापस लौट नहीं लौटी। वादी मुकदमा द्वारा अपनी नाबालिग पुत्री की अपनी रिश्तेदारी व जान पहचान में काफी ढूंढ-खोज की गई, किंतु कहीं भी नाबालिग पुत्री का कोई पता नहीं चल सका। चार जनवरी को राजस्व उपनिरीक्षक द्वारा वादी के द्वारा दिए गए प्रार्थना पत्र के आधार पर नाबालिग पुत्री के गुमशुदगी की प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज की गई थी।