Thursday , July 7 2022

कोई ‘मां का लाल’ किसानों से उनकी जमीन नहीं छीन सकता: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

नई दिल्ली: एक बार फिर किसानो के हक़ के लिए बोले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह उन्होंने हिमाचल प्रदेश सरकार के तीन साल पूरे होने पर आयोजित कार्यक्रम में किसानो का पक्ष लेते हुए कहा कि कोई भी मां का लाल किसानों से उनकी जमीन नहीं छीन सकता है. ये मुकम्मल व्यवस्था कृषि कानूनों में की गई है. ये दुष्प्रचार किया गया है कि किसानों की जमीन कॉन्ट्रैक्ट फॉर्मिंग के माध्यम से छीन ली जाएगी.

रक्षा मंत्री ने कहा, ‘जब भी देश में व्यापक सुधार हुए हैं उनका असर दिखने में थोड़ा समय लगा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कृषि क्षेत्र में सुधार की शुरुआत की है, मैं किसान भाइयों से अपील करता हूं कि कम से कम डेढ़-दो साल इन कृषि सुधारों के असर को देख लीजिए.’ उन्होंने कहा कि ऐतिहासिक कृषि सुधार से उन लोगों के पैरों तले जमीन खिसक गई है, जो लोग किसानों के नाम पर अपने निहित स्वार्थ साधते थे. उनका धंधा खत्म हो जायेगा, इसलिए जानबूझ कर देश के कुछ हिस्सों में एक गलतफहमी पैदा की जा रही है कि हमारी सरकार MSP की व्यवस्था खत्म करना चाहती है.

न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) खत्म करने का इरादा इस सरकार का ना तो कभी था, ना है और ना रहेगा

राजनाथ सिंह ने जोर देकर कहा कि न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) खत्म करने का इरादा इस सरकार का ना तो कभी था, ना है और ना रहेगा. मंडी व्यवस्था भी कायम रहेगी. कोई भी मां का लाल किसानों से उनकी जमीन नहीं छीन सकता. बता दें कि केंद्र सरकार और किसानों के बीच 29 तारीख को नए कृषि कानूनों को लेकर एक बार फिर बातचीत होगी.

बीजेपी नेता कैलाश चौधरी ने कहा कि 20 तारीख को अगर किसानों की नजर से बातचीत होगी तो निश्चित रूप से हल निकलेगा. राजनीतिक लोग किसानों के कंधों पर बंदूक रखकर निशाना साधना चाहते हैं. कांग्रेस और वामपंथी लोग किसानों की समस्या का हल नहीं निकलने देना चाहते.

Leave a Reply