Tuesday , July 5 2022

भ्रष्ट मंत्री के समर्थन में उतरी डिप्टी CM, बोलीं चार्ज लगने से कोई दोषी नहीं होता

पटना : बिहार के शिक्षा मंत्री मेवालाल चौधरी पर लगे भ्रष्टाचार के आरोप का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है. जहां एक तरफ जेडीयू कोटे से डॉ. मेवालाल चौधरी को मंत्री बनाने के बाद विपक्षी दल राजद समेत अन्य दल मंत्री पद से हटाने की बात की जा रही है, वहीँ खुद उप मुख्यमंत्री रेणु देवी उनका बचाव करती नज़र आ रही हैं. डिप्टी सीएम रेणु देवी ने कहा कि सिर्फ चार्ज लग जाने से कोई दोषी नहीं हो जाता है. मेवालाल जी अच्छे और सुलझे नेता में से एक हैं.

डिप्टी सीएम रेणु देवी ने सत्ता पक्ष और विपक्ष को एक सिक्के का दो पहलू बताया. साथ ही पंद्रह साल बनाम पंद्रह साल की चर्चा करते हुए डिप्टी सीएम रेणु देवी ने बताया कि विपक्ष को काम करने की आदत ही नहीं है. आपको बता दें कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को मंत्री मेवालाल चौधरी को तलब किया था.

2017 में मेवालाल चौधरी पर भागलपुर के सबौर कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति रहते हुए नौकरी में भारी घपलेबाजी करने का आरोप है. उन पर आरोप है कि कुलपति रहते हुए उन्होंने 161 असिस्टेंट प्रोफेसर की गलत तरीके से बहाली की. इस मामले को लेकर उनके खिलाफ प्राथमिकी भी दर्ज है. जिसके बाद बिहार के तत्कालीन राज्यपाल रामनाथ कोविंद ने मेवालाल चौधरी के खिलाफ जांच के आदेश दिए थे. जांच में मेवालाल चौधरी के खिलाफ लगे आरोपों को सही पाया गया था. उन पर सबौर कृषि विश्वविद्यालय के भवन निर्माण में भी घपलेबाजी का आरोप है.

 

Leave a Reply