Wednesday , July 6 2022

गोरखपुर MLC चुनाव में, ध्रुव त्रिपाठी ने इस आधार पर की जीत हासिल

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र 2020 के लिए संपन्न चुनाव दिलचस्प रहा. चुनाव के अंत तक सस्‍पेंस बना रहा. सभी प्रत्याशियों के मतपत्रों के द्वितीय वरीयता के मतों की गिनती के बाद भी जब अपेक्षित संख्या तक वोट नहीं पहुंचे तो सर्वाधिक मत पाने वाले ध्रुव कुमार त्रिपाठी को विजेता घोषित किया गया.

इस चुनाव में सिर्फ 27525 वैध वोट पड़े थे. यही इलेक्टोरल कोटा भी था. नियमानुसार निर्वाचित होने के लिए 13763 वोट पाने थे। प्रथम वरीयता या द्वितीय वरीयता की गिनती के दौरान जैसे ही कोई प्रत्याशी इस आंकड़े तक पहुंचता मतगणना बंद हो जाती लेकिन पिछली बार की तरह इस बार भी ऐसा नहीं हुआ. 16 प्रत्याशियों में से 14 प्रत्याशियों को परिणाम की दौड़ से बाहर कर देने के बाद एक नंबर पर रहे ध्रुव कुमार त्रिपाठी को 10227 व दूसरे नंबर पर रहे अजय सिंह को 9219 वोट मिले थे.

एक वोट अधिक पाने का आंकड़ा भी पूरा नहीं

जीत के दूसरे विकल्प के अनुसार अंतिम बचे दो प्रत्याशियों में से सर्वाधिक वोट पाने वाले को विजेता घोषित किया जाता है. इसी के तहत ध्रुव कुमार त्रिपाठी को 1008 मतों से विजयी हो गए लेकिन राज्य चुनाव आयोग के निर्देश के बाद दूसरा स्थान पाने वाले अजय सिंह के मतपत्रों में भी द्वितीय वरीयता के वोटों की गिनती की गई. पहले ही सभी प्रत्याशी बाहर हो चुके थे इसलिए केवल ध्रुव त्रिपाठी के खाते में वोट जोड़े गए. इस गिनती में उन्हें 927 वोट और मिल गए. इसलिए ध्रुव कुमार त्रिपाठी के जीत का अंतर 1935 मतों का हो गया. पर, अंतिम प्रत्याशी को बाहर करने तक भी 50 फीसद से एक वोट अधिक का आंकड़ा दूर ही रहा.

Leave a Reply