ईडी ने बैंकों को ट्रांसफर किए माल्या, नीरव और मेहुल से जब्त 9,371 करोड़

ईडी ने इन तीनों से करीब 18 हजार करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की

0 6

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय ने हजारों करोड़ का कर्ज लेकर फरार कारोबारी विजय माल्या, मेहुल चौकसी और नीरव मोदी की 9,371 करोड़ की जब्त संपत्ति को सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को ट्रांसफर कर दिया है। ईडी ने इन तीनों से करीब 18 हजार करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की है। जिसमें से 9,371 करोड़ इन तीनों की वजह से वित्तीय नुकसान उठाने वाले सरकारी बैंकों को दिया गया है।

प्रवर्तन निदेशालय की ओर से सोशल मीडिया पर जानकारी दी गई है कि पीएमएलए के तहत विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी से जुड़े केस में 18,170.02 करोड़ रुपए (बैंकों को हुए कुल नुकसान का करीब 80 फीसदी) की संपत्ति जब्त की है। ईडी ने इसमें से 9371.17 करोड़ रुपए की कुर्की और जब्त संपत्ति पीएसबी और केंद्र सरकार को ट्रांसफर कर दी है।

विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी ने पब्लिक सेक्टर के बैंकों से कर्ज लेकर नहीं लौटाया और विदेश भाग गए। इस धोखाधड़ी में बैंकों को करीब 22,585 करोड़ का नुकसान हुआ है। इस मामले में ईडी जांच कर रही है और तीनों कारोबारियों की काफी संपत्ति जब्त कर चुकी है। वहीं सीबीआई भी मामले की जांच कर रही है।

विजय माल्या पर 9,000 करोड़ से ज्यादा की धोखाधड़ी के आरोप हैं। माल्या इन दिनों लंदन में रह रहा है। माल्या मार्च 2016 को भारत छोड़कर फरार हो गया था। मेहुल चोकसी और नीरव मोदी पर पंजाब नेशनल बैंक से 13,500 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का मामला है। दोनों 2018 में भारत से भाग गए थे। इस समय चोकसी फिलहाल डोमिनिका की जेल में और मोदी ब्रिटेन की जेल में बंद है। इन तीनों के ही भारत लाने की कोशिशें भी लगातार हो रही हैं। हालांकि अभी तक भारत सरकार को इसमें कामयाबी नहीं मिल सकी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.