Monday , August 15 2022

सड़क हादसों की असली वज़ह आयी सामनें, सर्वे में खुलासा

लखनऊ: हजारों युवा रोज वाहन चलाने के दौरान वीडियो कॉल पर व्यस्त रहकर दुर्घटनाओं को दावत दे रहे हैं. ब्रिटेन ने एक सर्वे में यह खुलासा किया है. मोटरिंग समूह ने पाया कि 17 से 24 साल की उम्र के 20 फीसदी वाहन चालकों को ड्राइविंग करते वक्त वीडियो करने की आदत है. ड्राइविंग के दौरान स्मार्टफोन का प्रयोग न करने को लेकर काफी जागरूकता अभियान चलाये गए हैं. लेकिन, फेसटाइम, फेसबुक मैसेंजर और व्हाट्सएप के वीडियो कॉल के लोकप्रिय होने के बाद यह भी सड़क हादसों का एक और प्रमुख कारण बनता जा रहा है.

वाहन चलाने के दौरान फोन का इस्तेमाल करने वाले चालकों पर कड़ी कार्रवाई

वाहन चलाने के दौरान फोन का इस्तेमाल करने वाले चालकों पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की जा रही है. इस सर्वे में पता चला है कि 17 से 24 साल की उम्र के चालकों में ड्राइविंग के समय वीडियो कॉल करने और वीडियो कॉल उठाने की आदत अधिक उम्र वाले ड्राइवरों की तुलना में ज्यादा होती है.  3,000 ड्राइवरों पर किए गए शोध में 29 फीसदी ने स्वीकार किया है कि वो वाहन चलाते समय ऑडियो कॉल रिसीव करते हैं. 32 फीसदी चालकों ने कहा कि मोबाइल का इस्तेमाल उन्हें चिंतित करता है और 79 फीसदी चालकों ने कहा कि फोन का इस्तेमाल करने वाले ड्राइवरों को पकड़ने के लिए कैमरा तकनीक का इस्तेमाल करने की जरूरत है.

परिवहन विभाग के अधिकारी ने कहा, गाड़ी चलाते वक्त मोबाइल फोन खासकर वीडियो कॉल का इस्तेमाल करना न सिर्फ गैरकानूनी है बल्कि यह बेहद स्वाथपूर्ण गतिविधि है और इससे कई लोगों की जिंदगी खतरे में पड़ जाती है. हम इसके लिए और कड़े नियम बनाएंगे.

Leave a Reply