Friday , August 12 2022

फतेहपुर : बेटी की हत्या कर थाने पहुंचा पिता, चरित्रहीनता का आरोप


फतेहपुर।
में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां बेटी की गोली मारकर हत्या करने के बाद पिता बाइक से शनिवार सुबह थरियांव थाने पहुंचा। उसने पुलिस कर्मियों से कहा साहब मैं, 302 का मुल्जिम हूं मुझे पकड़ लो। बेटी की चरित्रहीनता के चलते गोली मारकर हत्या कर दी है।

पुलिस कर्मियों के उड़े होश

यह सुनकर पुलिस कर्मियों के होश उड़ गए। पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लिया। उसके बाद मौके पर पहुंची। युवती का शव पड़ा हुआ था। मामला थरियांव थाने के जयसिंहपुर गांव का है। गांव के चंद्रमोहन यादव थरियांव कस्बे में हड्डी रोग का क्लीनिक चलाते हैं। पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर कमरे से तीन खाली खोखे व बंदूक बरामद कर ली है। वहीं फोरेंसिक टीम ने भी साक्ष्य संकलित किए हैं।

 हत्या करने के बाद पिता ने थाने आकर किया सरेंडर

जयसिंहपुर गांव निवासी चंद्रमोहन सिंह ने अपनी 20 वर्षीय बेटी स्वाती सिंह की शादी एक वर्ष पूर्व कानपुर नगर के सिंहपुर थाना सचेंडी निवासी नागेंद्र सिंह के साथ किया था। बताते हैं कि ससुरालीजनों ने चारित्रिक दोष लगाते हुए स्वाती को गुरुवार को मायके में छुड़वा दिया था। इस बात को लेकर उपजे विवाद के बाद शनिवार की सुबह 9 बजे पिता चंद्रमोहन सिंह लाइसेंसी बंदूक लेकर कमरे में गये और बिस्तर पर लेटी स्वाति के सिर, चेहरे व सीने में ताबड़तोड़ तीन गोली मार दी।

हत्या के बाद वह बाइक लेकर सीधे थाने पहुंच गया। सीओ अनिल कुमार ने बताया कि लाइसेंसी बंदूक से बेटी की हत्या करने के बाद पिता चंद्रमोहन सिंह थाने आकर सरेंडर किया। उससे पूछताछ के बाद घटनास्थल पर पड़ताल की गई है। मौके से हत्या में प्रयुक्त लाइसेंसी डबल बैरल बंदूक व तीन खोखा बरामद किया गया है। हत्यारोपित पिता ने पुलिस को बताया है कि चारित्रिक दोष लगाकर ससुरालीजन बेटी को मायके छोड़ गए थे। समझाने के बाद भी बेटी अपनी गलत हरकतों से बाज नहीं आ रही थी, इसलिए घटना को अंजाम दे दिया।

Leave a Reply