Thursday , October 6 2022

एनोरेक्सिया की समस्या से निजात पाने के लिए ये घरेलू उपाय जरूर अपनाएं

दिल्ली: एनोरेक्सिया आहार संबंधी विकार है। इस स्थिति में व्यक्ति अपने खानपान पर प्रतिबंध लगा देता है। आसान शब्दों में कहें तो एनोरेक्सिया होने पर भूख नहीं लगती है। साथ ही भोजन के स्वाद में भी कमी महसूस होती है। कुछ जानकारों की मानें तो कुछ लोग बढ़ते वजन से परेशान होकर अपने खानपान पर पाबंदी लगा देते हैं। लंबे समय तक खानपान पर पाबंदी लगाने से एनोरेक्सिया का खतरा बढ़ जाता है। इस बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की स्मरण शक्ति भी कमजोर होने लगती है। इसके लिए अपने खानपान पर पूरी तरह से पाबंदी लगाने से पहले डॉक्टर से जरूर सलाह लें। वहीं, एनोरेक्सिया की समस्या से निजात पाने के लिए ये घरेलू उपाय जरूर अपनाएं। आइए जानते हैं-

इलायची का सेवन करें

इलायची सेहत के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। इसके सेवन से कई बीमारियों में आराम मिलता है। इसका इस्तेमाल मेहमानबाजी में किया जाता है। इसके अलावा, जायके का स्वाद बढ़ाने के लिए इलायची का यूज किया जाता है। एनोरेक्सिया की समस्या को दूर करने के लिए जायके में इलायची का इस्तेमाल जरूर करें। नियमित रूप से इलायची के सेवन से एनोरेक्सिया की समस्या से निजात मिलता है।
नमक और इमली का टेस्ट लें

इमली का नाम सुनते ही मुंह में पानी आने लगता है। इससे स्वादहीन की समस्या में आराम मिलता है। अगर आप एनोरेक्सिया की समस्या से परेशान हैं, तो इमली का सेवन कर सकते हैं। इसके लिए इमली और नमक का सेवन करें। इसके अलावा, इमली की चटनी खाने से भी एनोरेक्सिया में आराम मिलता है।

अदरक का यूज करें
अदरक के सेवन से पाचन तंत्र मजबूत होता है। साथ ही बदलते मौसम में होने वाली बीमारियों में भी आराम मिलता है। साथ ही एनोरेक्सिया की समस्या भी दूर होती है।