शिक्षक भर्ती अभ्यर्थियों से मिले पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर

0 1

लखनऊ। 22 हजार खाली पदों की भर्ती को लेकर लगभग 10 दिन से ऊपर अभ्‍यर्थी एससीईआरटी कार्यालय स्थित पानी की टंकी पर चढ़े हुए हैं। गुरुवार को इन अभ्‍यर्थियों के समर्थन में पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर भी पहुंच गए। वे पानी की टंकी के ऊपर चढ़े अभ्‍यर्थियों के पास पहुंचे । उन्होंने इंटरनेट मीडिया पर अपना एक वीडियो जारी कर बयान दिया। उन्होंने कहा कि 22 हजार शिक्षकों के धरना दे रहे महिला व पुरुष अभ्यर्थी धरना दे रहे हैं। सात अभ्‍यर्थी आमरण अनशन पर है, किसी भी दिन किसी भी बच्चे की मृत्यु हो सकती है। इन मांग पूरी तरह से जायज है। जब सुपर टेट में उन्होंने अच्छे नंबर पाए हैं। न्यूनतम अर्हता से अधिक अंक है तो उन्हें भर्ती देनी चाहिए, 22 हजार भर्ती का समायोजन कर उन्हें नौकरी देनी चाहिए। इतनी वाजिब मांग सरकार नहीं मांग रही है। शौचालय पानी की सुविधा भी नहीं दी जा रही है, खराब व्यवहार । इतनी खतरनाक स्थिति में हैं कभी भी कोई भी घटना हो सकती है। मेरी योगी आदित्यनाथ से निवेदन है कि हृदयहीनता को त्यागकर इनकी बात सुने इन्हें न्‍याय दें और इनका समायोजन करें।

अभ्यर्थियों की क्या है मांग ?
अभ्यर्थियों की मांग है कि सरकार रिक्त पदों पर तत्काल भर्ती करे। मौके पर भारी पुलिस बल भी मौजूद रही। अभ्यर्थियों का कहना था कि न्यायालय ने 1.37 लाख पदों को दो भर्ती प्रक्रिया के तहत भरने का आदेश दिया था, ऐसे में शेष पद अगली भर्ती में क्यों? अभ्यर्थियों का यह भी कहना था कि सरकार के अनुसार प्रदेश में करीब ढाई लाख पद खाली हैं, इनमें 22 हजार खाली पदों के अलावा भी तमाम पद ऐसे हैं जिन पर सरकार भर्ती कर सकती है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.