Friday , August 12 2022

TIME Magazine की पहली किड ऑफ द ईयर बनीं Gitanjali Rao, इस लिए कवर पेज पर मिली जगह

नई दिल्ली । कौन है गीतांजलि राव जिसकी हर जगह हो रही है चर्चा, आखिर भारतीय मूल की 15 साल की अमेरिकी गीतांजलि राव ने ऐसा क्या कमाल किया है कि हर तरफ उनकी ही बात हो रही है. तो आईये हम आपको बातते है। दरअसल, मशहूर TIME Magazine ने गीतांजलि को उनके इनोवेशन के लिए अपने कवर पेज पर जगह दी है और ‘किड ऑफ द ईयर’ के रूप में छापा है. गीतांजलि को 5 हजार से अधिक नामांकित बच्चों में से चुना गया है और वह पहली किड ऑफ द ईयर बनी हैं. गीतांजलि कोई आम बच्ची नहीं हैं, उन्होंने सिर्फ 15 साल की उम्र में कई कारनामे किए हैं।

गीताजंलि राव एक साइंटिस्ट और इनोवेटर हैं. उन्होंने टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर ओपियम की लत से और साइबरबुलिंग से लोगों को निकालने में सफलता हासिल की है. गीतांजलि का नया इनोवेशन एक ऐप किंडली और एक क्रोम एक्सटेंशन है- जो साइबरबुलिंग का पता लगाने के लिए मशीन लर्निंग तकनीक का इस्तेमाल करता है।

गीतांजलि ने सिर्फ 15 साल की उम्र में एक ऐसा सेंसर बनाया है, जिससे पानी में लेड यानि सीसे की मात्रा का आसानी से पता लगाया जा सकता है।उन्होंने अपने इनोवेशन में ज्यादा महंगे डिवाइस का इस्तेमाल भी नहीं किया है. गीतांजलि ने मोबाइल की तरह दिखने वाले डिवाइस का नाम ‘टेथिस’ रखा है। इस डिवाइस को पानी में सिर्फ कुछ सेकेंड तक डालने के बाद बता देता है कि पानी में लेड की मात्रा कितनी है।

गीतांजलि राव के इस इनोवेशन पर अब अमेरिकी वैज्ञानिक भी काम कर रहे हैं। दरअसल,अमेरिका में कई जगहों पर पानी में लेड की मात्रा काफी ज्यादा पाई जाती है और इसे मापने के लिए अब तक काफी जटिल तरीके का इस्तेमाल किया जाता है. गीतांजलि के इनोवेशन से वैज्ञानिकों को फायदा हो सकता है।

टाइम मैगजीन ने पहली बार किड ऑफ द ईयर के लिए नॉमिनेशन मंगाए थे और इसके लिए करीब 5 हजार नॉमिनीज को चुना गया था, जिनमें से गीतांजलि ने पहला स्थान हासिल किया है. गीतांजलि ने हाल ही में अमेरिका का टॉप यंग साइंटिस्ट अवॉर्ड भी अपने नाम किया था। टाइम मैगजीन के कवर पेज पर गीतांजलि राव एक सफेद लैब कोट में हाथ में मेडल पकड़े हुए दिख रही हैं। गीतांजलि राव को 4 दिसंबर की टाइम मैगजीन के कवर पर दिखाया गया।

टाइम मैगजीन के लिए हॉलीवुड सुपरस्टार एंजलीना जोली ने गीतांजलि का इंटरव्यू लिया है. एंजलीना ने लिखा, ‘वीडियो चैट पर भी, उनका तेज दिमाग और अन्य युवाओं के लिए प्रेरक संदेश साफ झलकता है. उसका कहना है कि हर समस्या को ठीक करने की कोशिश मत करो, उसी पर फोकस करो, जिससे आप उत्तेजित हों।

 

 

Leave a Reply