Tuesday , July 5 2022

संविदा की नौकरी देकर युवाओं के जख्मों पर नमक छिड़क रही सरकार: प्रियंका गांधी

लखनऊ: कांग्रेस महासचिव व उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने एक बार फिर सरकारी नौकरियों में संविदा के मुद्दे पर योगी सरकार पर निशाना साधते हुए प्रियंका ने कहा है कि सरकार युवाओं को संविदा पर नौकरी देकर उन्हें बंधुआ मजदूरी के लिए बाध्य कर रही है। अब युवा सरकार की मंशा को समझ चुका है इसीलिए वह सड़कों पर उतर रहा है।

प्रियंका गांधी ने बुधवार को अपने ट्वीट में कहा- ‘वाह री सरकार, पहले तो नौकरी ही नहीं दोगे। इसको मिलेगी उसको 30-35 से पहले नहीं मिलेगी, फिर उस पर पांच साल अपमान वाली संविदा की बंधुआ मजदूरी और अब कई जगहों पर 50 वर्ष पर ही रिटायर की योजना। युवा सब समझ चुका है। अपना हक मांगने वो सड़कों पर उतर चुका है।’

युवाओं के जख्मों पर नमक छिड़कने का काम रही है सरकार

कांग्रेस महासचिव प्रियंका ने इससे पहले मंगलवार को ट्वीट कर कहा कि, युवा नौकरी की मांग करते हैं और यूपी सरकार भर्तियों को पांच साल के लिए संविदा पर रखने का प्रस्ताव ला देती है। जले पर नमक छिड़ककर युवाओं को चुनौती दी जा रही है। गुजरात में यही फिक्स पे सिस्टम है। वर्षों सैलरी नहीं बढ़ती, परमानेंट नहीं करते। युवाओं का आत्मसम्मान नहीं छीनने देंगे।

क्या है सरकार का संविदा की नौकरी का नया फार्मूला

बता दें कि उत्तर प्रदेश सरकार के नए प्रस्तावित नियम के अनुसार उत्तर प्रदेश में ग्रुप बी और सी की नौकरियों के लिए अब संविदा पर भर्ती की जाएगी। यानी कि पहले भर्ती निकाली जाएगी। लोगों का सेलेक्शन होगा और फिर पांच साल के कॉन्ट्रैक्ट पर काम कराया जाएगा। इन पांच साल में हर छह महीने पर एक टेस्ट लिया जाएगा, जिसमें कम से कम 60 फीसद अंक पाना अनिवार्य होगा। दो छमाही में इससे कम अंक लाने वाले लोगों को सेवा से बाहर कर दिया जाएगा।

Leave a Reply