Thursday , July 7 2022

कपास पर मोमबत्ती गिरने पर लगी आग, दादी और पोते की हुई मौत

अलवर: कपास में आग लगने से कमरे में सो रहे दादी पोते की जलकर दर्दनाक मौत हो गयी। वही कमरे में ही सो रहे दादा ने मुश्किल से पांच साल की पोती को बचा लिया। इस हादसे में गंभीर रूप से झुलसे दादी पोते को टपूकड़ा सीएचसी लाया गया। जहां डॉक्टर ने दादी को मृत घोषित कर दिया। जबकि 2 साल के अयाज़ को अलवर रेफर किया गया था लेकिन रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया।

आग के धुएं में दादी, पोता और पोती बेहोश हो गए

टपूकड़ा थाना पुलिस ने बताया कि बूबकाहेड़ा निवासी मुतयांज की पत्नी मरियम रात को पोते अयाज और पोती के साथ कमरे में आराम कर रही थी। इसी दौरान बिजली चली गई और दादी ने मोमबत्ती जला दी। अचानक मोमबत्ती गिरने से वहां रखी सूखी कपास ने आग पकड़ ली। कपास में आग इतनी तेजी से लगी कि चारपाई व कपड़े सहित आसपास के सामान को भी चपेट में ले लिया। कमरे में डीजल रखा था जिसके कारण आग तेजी से फैली। आग के धुएं में दादी, पोता और पोती बेहोश हो गए और वहीं पड़े रहे।

कुछ ही मिनट में दादी और पोते को आग ने पूरी तरह चपेट में ले लिया। इस बीच पास में ही सो रहे दादा ने मुश्किल से पोती को बचाया। वह भी बेहोश हो गई थी। बताया जा रहा है कि घटना के बाद पोते की सांसें चल रही थी। लेकिन जयपुर ले जाने के दौरान उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। सूचना पर पहुंची टपूकड़ा थाना पुलिस ने मामले की जांच में जुट गई है।

Leave a Reply