Friday , October 7 2022

जीत को लेकर हार्दिक पंड्या ने दिया बड़ा बयान

अहमदाबाद। पांच बार के आईपीएल चैम्पियन हार्दिक पंड्या ने कहा है कि पहली बार टूर्नामेंट में उतरी गुजरात टाइटंस के साथ इस ताजा जीत के बारे में आने वाली पीढियां बात करेंगी। हार्दिक की कप्तानी में गुजरात टाइटंस ने अपने पहले ही सत्र में इंडियन प्रीमियर लीग खिताब अपने नाम किया। हार्दिक के हरफनमौला प्रदर्शन के दम पर फाइनल में रविवार को टाइटंस ने राजस्थान रॉयल्स को सात विकेट से मात दी। हार्दिक मुंबई इंडियंस के साथ चार बार आईपीएल जीत चुके हैं। हार्दिक ने जीत के बाद कहा ,‘‘हर कोई याद करेगा कि यह टीम थी जिसने सफर की शुरूआत की थी और पहले ही साल में चैम्पियनशिप जीतना खास है। ’’ उन्होंने कहा कि आईपीएल 15 के लिये मेगा नीलामी के बाद ही उन्हें पता था कि वह चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करेंगे।

उन्होंने कहा ,‘‘ जब नीलामी खत्म हुई तो मुझे पता था कि मैं चौथे नंबर पर उतरूंगा।’’ हार्दिक ने चार ओवर में 17 रन देकर तीन विकेट लिये। अपनी गेंदबाजी के बारे में उन्होंने कहा ,‘‘ मैं सही समय पर दिखाना चाहता था कि मैने कितनी मेहनत की है। वह यही दिन था। गेंदबाजी के नजरिये से मैने सर्वश्रेष्ठ दिन के लिये अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन बचा रखा था।’’ उन्होंने कहा ,‘‘ सही लैंग्थ पर बने रहने से और बल्लेबाज को शॉट खेलने के लिये मजबूर करने से कामयाबी मिलती ही है।’’ आक्रामक बल्लेबाजी के लिये मशहूर हार्दिक ने टूर्नामेंट के दौरान काफी संयम के साथ बल्लेबाजी की और बतौर कप्तान भी वह काफी शांतचित्त नजर आये। उन्होंने कहा ,‘‘ मेरे लिये टीम सबसे अहम है। मैं हमेशा से ऐसा ही रहा हूं। यदि मेरा प्रदर्शन सबसे खराब हो लेकिन टीम जीत रही हो तो मुझे चलेगा।

मेरे लिये 160 की स्ट्राइक रेट से ज्यादा अहम टीम का जीतना है।मेरे लिये टीम सर्वोपरि है।’’ अपनी बल्लेबाजी के बारे में उन्होंने कहा ,‘‘ बल्लेबाजी हमेशा मेरे लिये पहले है और मेरे दिल के करीब है।’’ टूर्नामेंट में 863 रन बनाकर ‘प्लेयर आफ द टूर्नामेंट’ बने रॉयल्स के जोस बटलर ने कहा कि फाइनल को छोड़कर उनका प्रदर्शन आशातीत रहा। उन्होंने कहा ,‘‘ हम खिताब जीतना चाहते थे। हार्दिक और उसकी टीम को बधाई। वे जीत के हकदार थे। मेरा काम टीम के लिये अपनी भूमिका निभाना था।