Thursday , October 6 2022
ज्ञानवापी केस से पिता-पुत्र की जोड़ी वकील हरिशंकर और विष्णु जैन को हिंदू पक्ष ने हटाया
ज्ञानवापी केस से पिता-पुत्र की जोड़ी वकील हरिशंकर और विष्णु जैन को हिंदू पक्ष ने हटाया

ज्ञानवापी केस से पिता-पुत्र की जोड़ी वकील हरिशंकर और विष्णु जैन को हिंदू पक्ष ने हटाया

वाराणसी। ज्ञानवापी मस्जिद मामले में कोर्ट में हिंदू पक्ष की पैरवी कर रहे पिता-पुत्र वकील हरिशंकर जैन और विष्णु जैन शंकर विश्व वेदिक सनातन संघ ने केस से बाहर कर दिया है। विश्व वेदिक सनातन संघ के अध्यक्ष जितेंद्र सिंह विसेन ने कहा कि हरिशंकर जैन और विष्णु शंर जैन अब इस केस में हिंदू पक्ष की पैरवी नहीं करेंगे। हालांकि इसकी वजह नहीं बताई गई है। लेकिन जितेंद्र सिंह ने कहा कि हमने फैसला लिया है कि दोनों का वकालतनामा इस केस में खत्म कर दिया गया है। बता दें कि वीवीएसएस ने देश की अलग-अलग कोर्ट में 50 से अधिक मुकदमे दायर किए हैं, जिसमे से 7 केस ज्ञानवापी से संबंधित हैं। ऐसे में किसी भी केस में हरिशंकर और विष्णु वीवीएसएस की कोर्ट में पैरवी नहीं करेंगे। गौर करने वाली बात है कि दोनों ही वकील पिछले काफी समय से इस मामले के चलते चर्चा में थे। पांच केस जो चल रहे हैं उसकी ये दोनों वकील पैरवी कर रहे थे। इनमे मुख्य रूप से मस्जिद के नीचे प्राचीन मंदिर होने का दावा किया गया है। जिसमे लखनऊ की टीले वाली मस्जिद, धार में भोजशाला, आगरा में ताज महल, मथुरा में शाही इदगाह शामिल है।हाल ही में वीवीएसएस ने ज्ञानवापी मस्जिद मामले में कोर्ट में मुकदमा दायर किया है, जिसमे से एक मामले में मुस्लिमों के इस मस्जिद में प्रवेश पर रोक लगाने की मांग की गई है और पूरे मस्जिद को हिंदू पक्ष को दिए जाने के लिए कहा गया है। याचिका में दावा किया गया है कि ज्ञानवापी मस्जिद में वीडियोग्राफी सर्वे के दौरान शिवलिंग प्राप्त हुआ है।
गौर करने वाली बात है कि ज्ञानवापी मस्जिद के भीतर हुए सर्वे का वीडियो लीक होने के बाद यह पूरा मामला चर्चा में बना हुआ है। कोर्ट ने इस पूरे मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं। कोर्ट ने आदेश दिया है कि वीडियो लीक कैसे हुआ इसकी जांच की जाए। वीडियो लीक केस की सुनवाई 4 जुलाई को होगी। लीक वीडियो में देखा जा सकता है कि मस्जिद के वजूखाने में शिवलिंग जैसी आकृति है, जिसका उपरी भाग दिख रहा है। इसे मुस्लिम पक्ष फव्वारा बता रहा है। जबकि हिंदू पक्ष कह रहा है कि बाबा मिल गए। हालांकि अभी यह तय होना है कि यह फव्वारा है या शिवलिंग।
ज्ञानवापी केस में सर्वे के वीडियो और फोटो लीक होने के बाद अब पक्षकारों में ही फूट पड़ती नजर आ रही है। ज्ञानवापी केस में लीगल बैकअप देख रही संस्था विश्व वैदिक सनातन संघ के प्रमुख जितेंद्र सिंह बिसेन ने हरिशंकर जैन और विष्णु जैन को लेकर बड़ा ऐलान किया है। जितेंद्र सिंह बिसेन ने हरिशंकर जैन और विष्णु जैन को लेकर बड़ा ऐलान किया है. जितेंद्र सिंह बिसेन ने हरिशंकर जैन और विष्णु शंकर जैन को अपने सभी मुकदमों से हटाने का ऐलान कर दिया है।
विश्व वैदिक सनातन संघ के प्रमुख जितेंद्र सिंह बिसेन ने कहा है कि हमने जिला अदालत से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक, अपने हर मुकदमें से हरिशंकर जैन और विष्णु शंकर जैन को हटाने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि हम जिला कोर्ट से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक, अपने सभी मुकदमों में लगे हरिशंकर जैन और विष्णु शंकर जैन के वकालतनामे निरस्त करेंगे।
विश्व वैदिक सनातन संघ के प्रमुख जितेंद्र सिंह बिसेन हिंद साम्राज्य पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और राष्ट्रीय महामंत्री भी थे। हिंद साम्राज्य पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा देने का भी ऐलान किया है। उन्होंने अपना इस्तीफा वॉट्सएप पर भेज दिया है।