Monday , August 15 2022
बिकरू : विकास दुबे के गुर्गों की खुलेगी हिस्ट्रीशीट, कसेगा शिकंजा
बिकरू : विकास दुबे के गुर्गों की खुलेगी हिस्ट्रीशीट, कसेगा शिकंजा

बिकरू : विकास दुबे के गुर्गों की खुलेगी हिस्ट्रीशीट, कसेगा शिकंजा

कानपुर। जनपद के बिकरू गांव में आठ पुलिसवालों की हत्या मामले में मुख्य आरोपी विकास दुबे समेत उसके छह गुर्गे एनकाउंटर में मार गिराए गए। वहीं सभी अन्य आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। जिसके बाद अब बिकरु कांड के आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने शिकंजा कसा है। पुलिस महानिरीक्षक मोहित अग्रवाल 10 आरोपितों की हिस्ट्रीशीट खोलने के निर्देश दिए। कानपुर रेंज के आईजी मोहित अग्रवाल ने बताया विकास दुबे के साथ पुलिसकर्मियों पर गोली बरसाने वाले बदमाशों के खिलाफ हिस्ट्रीशीट खुलनी शुरू हो गई है।
आईजी के मुताबिक, पहले चरण में विष्णु यादव, शिव तिवारी, दयाशंकर अग्निहोत्री, गोपाल सैनी, धर्मेंद्र उर्फ धीरू दुबे सहित 10 आरोपियों के खिलाफ हिस्ट्रीशीटर खुली है। वहीं पुलिस की इस कार्रवाई से अपराधियों में हड़कंप मचा है जबकि निलंबित थाना प्रभारी और हल्का इंचार्ज को फिलहाल राहत दी गई है।
गौरतलब है कि पिछले साल 2 जुलाई की रात चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरू गांव में दुर्दांत विकास दुबे को पकड़ने पुलिस की टीम गई थी। दबिश के दौरान विकास दुबे ने अपने गुर्गों के साथ पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया था। विकास दुबे और उसके साथियों ने सेमी ऑटोमेटिक राइफल से प्रतिबंधित अमेरिकन विंचेस्टर कारतूसों से फायरिंग की थी। पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल इन राइफल व अन्य असलहों को बरामद करने के लिए विकास के मकान को जमींदोज कर दिया था।
आईजी रेंज मोहित अग्रवाल ने कहा कि राइफल के बारे में जानकारी देने वाले को इनाम दिया जाएगा. आपको बता दें कि सर्च ऑपरेशन में पुलिस ने पुलिस के लूटे असलहे के और विकास के गुर्गों की बंदूकें बरामद की थी। कुछ समय पहले विकास के भाई दीपक उर्फ दीपक दुबे ने लखनऊ में कोर्ट में सरेंडर कर दिया था। इसके बाद पुलिस ने बिकरू कांड के आखिरी आरोपी विपुल दुबे को भी गिरफ्तार करके जेल भेज दिया।

Leave a Reply