Monday , August 15 2022
दिल्ली हिंसा पर भड़कीं कंगना, कहा- सरकार कृषि कानून जल्द से जल्द लागू करे
दिल्ली हिंसा पर भड़कीं कंगना, कहा- सरकार कृषि कानून जल्द से जल्द लागू करे

दिल्ली हिंसा पर भड़कीं कंगना, कहा- सरकार कृषि कानून जल्द से जल्द लागू करे

मुंबई। गणतंत्र दिवस (26 जनवरी) को ट्रैक्टर रैली के दौरान दिल्ली में जगह जगह पर हुई हिंसा पर बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने कई सवाल उठाए। साथ ही इस प्रदर्शन का समर्थन करने वालों को आतंकवादी तक कह डाला था। कंगना ने सरकार से जल्द से जल्द कृषि कानून को लागू करने की मांग कर डाली है। इतना ही नहीं, इस प्रदर्शन के दिन को काला दिवस तक कह दिया।

लोकतंत्र के रूप में हमने एक राष्ट्रवादी सरकार को चुना है

कंगना रनौत ने किसानों को प्रदर्शन को लेकर बुधवार को कई ट्वीट किए हैं। उन्होंने लिखा- बहुत प्रदर्शन के बाद सीएए को होल्ड पर रख दिया गया है। मुझे यकीन है किसान बिल को भी इसी तरह होल्ड पर रख दिया जाएगा। लोकतंत्र के रूप में हमने एक राष्ट्रवादी सरकार को चुना है. फिर भी एंटीनेशनल जीत रहे हैं। भारत के लिए काला दिन। प्लीज इन कानूनों को लागू करें और हमारे लोकतंत्र को जिताएं। कंगना ने एक बार फिर सिंगर दिलजीत दोसांझ पर निशाना साधा. उन्होंने प्रदर्शन की कुछ तस्वीरें शेयर करते हुए लिखा- यह दिलजीत दोसांझ के चेहरे पर तेज थप्पड़ नहीं है। वह ये ही चाहते थे। वो जो चाहते थे उन्हें इस राष्ट्र ने प्लेट में सजाकर दिया है।

कंगना ने अगले ट्वीट में लिखा कि बॉलीवुड से इस तरह की गंदगी साफ करने की सख्त जरुरत है। ये लोग एंटरटेनमेंट की आड़ में आतंकवाद और हिंसा को बड़ावा दे रहे हैं। इन सभी को जेल में डाल दो। ये दीमक भारत की हड्डियों को खा रहे हैं। आपको बता दें बीते दिन कंगना रनौत ने पंजाबी सिंगर दिलजीत दोसांझ और प्रियंका चोपड़ा पर निशाना साधा था। उन्होंने हिंसा पर इन दोनों से सवाल किया कि दुनिया अब हम पर हंस रही है, ये ही चाहिए था तुम लोगों को … बधाइयां।.

दिलजीत खुलकर किसान आंदोलन के सपोर्ट में दिखे

जहां एक तरफ कंगना रनौत किसान बिल का पूरी तरह से विरोध करती नजर आई हैं वहीं दिलजीत खुलकर किसान आंदोलन के सपोर्ट में आए थे। वह सिंघु बॉर्डर पर भी पहुंचे थे, जहां पर किसान धरने पर बैठे थे। किसानों का समर्थन करते हुए उन्होंने सरकार से आग्रह किया था कि किसानों की बात सुनें और जल्द से जल्द इस मामले का हल निकाला जाना चाहिए।

Leave a Reply