Monday , September 26 2022
Kanpur : भारी पुलिस फोर्स के साथ महापौर ने 7 प्राचीन मंदिरों का देखा हाल
Kanpur : भारी पुलिस फोर्स के साथ महापौर ने 7 प्राचीन मंदिरों का देखा हाल

Kanpur : भारी पुलिस फोर्स के साथ महापौर ने 7 प्राचीन मंदिरों का देखा हाल

कानपुर। कानपुर के प्राचीन मंदिरों के अस्तित्व को बचाने के लिए कानपुर की महापौर ने अभियान छेड़ दिया है। शनिवार को कई थानों की फाेर्स लेकर महापौर प्रमिला पांडेय मुस्लिम क्षेत्रों में मंदिरों का हाल जानने पहुंची तो आवाक रह गईं। मंदिरों पर कब्जे तो थे ही वहां से बिरयानी की दुकानें सजी हुई थीं। कब्जाए सात मंदिरों से मूर्तियां भी गायब थीं। एक का तो खुद महापौर ने ताला तोड़ा। महापौर ने नोटिस भेजकर सात दिनों में जवाब मांगने की बात कही है।
प्राचीन मंदिरों पर हो रहे कब्जों को बचाने की मुहिम में अब महापौर प्रमिला पांडेय भी मैदान में आ गई हैं। शनिवार को महापौर प्रमिला पांडे ने एसीपी अनवरगंज और कई थानों की फोर्स के साथ बेकनगंज और चमनगंज के सात प्राचीन मंदिरों का दौरा किया। मौके पर महापौर को यहां मंदिर बेहद जीर्णशीर्ण हालत में मिले। सभी मंदिरों से मूर्तियां गायब थीं और अधिकतर मंदिरों पर कब्जा हो चुका है या फिर उन पर दुकानें खोली जा चुकी हैं। बेकनगंज में तो एक प्राचीन मंदिर में अंदर जाने के लिए महापौर को ताला भी तुड़वाना पड़ा। एसीपी के साथ दौरे के दौरान महापौर बाबा बिरियानी और चांद बिरयानी की दुकान पर भी पहुंची। यहां पर महापौर ने साफ कर दिया कि यह पहले प्राचीन मंदिर था जिस पर अब यह कब्जा करके बिरयानी की दुकान चलाई जा रही है। जिसको किसी भी हालत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
महापौर ने कहा कि मुस्लिम इलाकों में कुल 124 मंदिर ऐसे हैं जिन पर कब्जे हो चुके हैं। महापौर ने कहा कि नोटिस भेजकर 7 दिन में जवाब मांगा जाएगा। महापौर ने कहा अवैध कब्जे खाली कराए जाएंगे और मंदिरों की प्राण प्रतिष्ठा एक बार फिर से की जाएगी। इस मामले में समाज के सभी वर्गों का सहयोग लिया जाएगा।